उत्तराखंड में सहस्रताल रेस्क्यू अभियान जारी, 10 ट्रैकर्स को किया गया एयरलिफ्ट

0
93

उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में सहस्रताल ट्रैकिंग रूट पर फंसे ट्रैकर्स की खोज एवं बचाव के लिए चलाया गया अभियान युद्धस्तर पर जारी है। अभी तक कुल 10 ट्रैकर्स को घटना स्थल से एयरलिफ़्ट कर सुरक्षित निकाला जा चुका है। हर्षिल हेलिपैड पर वायुसेना के एक एमआई-17 हेलीकॉप्टर को बैकअप में तैनात किया गया है। जिलाधिकारी डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट ने बुधवार को मीडियाकर्मियों को यह जानकारी दी।

ट्रैकिंग एसोसिएशन ने मंगलवार शाम को उत्तरकाशी के आपातकालीन परिचालन केंद्र को सूचना दी थी की सहस्रताल के ट्रैकिंग रूट पर गये 22 सदस्यों वाला ट्रैकिंग दल खराब मौसम के कारण रास्ता भटक गया है। खराब मौसम के कारण ट्रैकिंग दल के चार सदस्यों की मौत हो गई है। आज चार और ट्रैकर्स की मौत की खबर मिली है। इसके साथ ही एक और ट्रैकर्स की मौत की आशंका जताई गई है। 10 ट्रैकर्स को एयरलिफ्ट कर दिया गया है

उल्लेखनीय है कि कॉलर राजेश, ट्रैक लीडर ने सोमवार को सूचना दी थी कि मौसम खराब के कारण सहस्रताल से उत्तरकाशी की तरफ 3.5 किमी कुठलीटॉप में 13 ट्रैकर्स हैं जिसमें चार ट्रैकर्स की मृत्यु एवं नौ ट्रैकर्स का स्वास्थ्य खराब है। इसके अलावा सात ट्रैकर्स धर्मशाला बैस कैम्प में, दो ट्रैकर्स कुशकल्याण में सुरक्षित हैं। 13 सदस्यों को रेस्क्यू की आवश्यकता है। यह जानकारी मिलते ही उत्तरकाशी पुलिस-प्रशासन एसडीआरएफ और एनडीआरएफ के साथ राहत एवं बचाव अभियान में जुट गया।