हरीश रावत का दोहरा रवैया, चुनाव के समय ही याद आते हैं हिन्दू: कौशिक

0
103
मदन कौशिक

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि हरीश रावत के दोहरे रवैया के बहकावे में अब लोग आने वाले नहीं है। चुनाव नजदीक आते ही हिन्दू की याद आने लगती है। सलमान खुर्शीद के बयान पर अपने नेतृत्व से माफी मांगने के लिए कहना चाहिए।

भाजपा अध्यक्ष कौशिक ने एक जारी बयान में कांग्रेस और हरीश रावत पर जोरदार हमला बोला है। उन्होंने कहा कि तुष्टीकरण की चादर ओढ़ चुकी कांग्रेस को चुनाव पास आते ही हिन्दू याद आते हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व सीएम हरीश रावत को इसमें दोहरा रवैया त्याग कर स्पष्ट करना चाहिए। वह हिन्दुओं को गाली देने पर खुर्शीद के वक्तव्य को गलत मानते हैं तो राहुल गांधी के बयान पर चुप क्यों हैं? क्या वह राहुल गांधी के वक्तव्य की निंदा कर उनसे आहत हिन्दू समुदाय से माफी मांगने को कहेंगे ?

उन्होंने कहा कि जो चुनावी और इच्छाधारी हिन्दू दिल्ली में भर-भर के हिन्दुओं को गाली दे रहे हैं, उत्तराखंड में कुछ और ही लक्षण दिखाने की कोशिश कर रहे हैं। खुद को मुसलमानों की पार्टी बताने वाली और राम मंदिर निर्माण में रोड़े अटकाकर भगवान राम को काल्पनिक बताने वाली कांग्रेस हिन्दुओं की आस्था को बार बार ठेस पहुंचा रही है और चुनाव नजदीक आते ही हिन्दुओं की चिंता कैसे हो गयी?

उन्होंने कहा कि हरीश रावत यह बताएं कि उनके विचार सलमान ख़ुर्शीद से या राहुल गांधी में किससे मेल नहीं खा रहे है, क्योंकि दोनों ही हिन्दुओं को बदनाम कर रहे हैं और गाली दे रहे हैं। अगर, हरीश रावत को सच राहुल गांधी, खुर्शीद और रशीद अल्वी के बयानों से ठेस पहुंची है तो राहुल गांधी से कहें कि हिन्दू समाज से माफ़ी मांगे। कांग्रेस एक सुनियोजित रणनीति और तुष्टीकरण की नीति के चलते हिन्दुओं की भावनाओं पर चोट करती रही है और इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। छद्म आवरण में सहानुभूति का लेप लगाने की कोशिश में जुटे नेताओं को भी जनता माफ़ नहीं करेगी।