चारधाम यात्रा: बदरीधाम में अबतक 16 लाख 89 हजार से अधिक पहुंचे श्रद्धालु, 19 नवंबर को बंद होंगे कपाट

0
69
चारधाम

बदरीनाथ धाम में अब तक 16 लाख 89 हजार 563 तीर्थ यात्री दर्शन कर चुके हैं। चारधाम में कुल 43 लाख 63 हजार से अधिक यात्री पहुंचे हैं। बदरी धाम के कपाट शीतकाल के लिए 19 नवम्बर को बंद हो जाएंगे, जबकि केदारनाथ, गंगोत्री,यमुनोत्री के कपाट अक्टूबर माह में ही बंद हो गए।

बदरी-केदार मंदिर समिति के मुताबिक 02 नवम्बर रात्रि तक कुल 2069 तीर्थ यात्री धाम में पहुंचे। इस साल के यात्रा में बदरीनाथ धाम कपाट खुलने की तिथि 8 मई से 2 नवंबर तक 16 लाख 89 हजार 563 लोगों ने दर्शन किए। बदरीनाथ धाम में सर्दी बढ़ी है। फिलहाल मौसम सामान्य। बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग सुचारू है। 02 नवंबर तक उत्तराखंड चारधाम पहुंचे तीर्थयात्रियों की संख्या 43 लाख 63 हजार 45 पहुंच गई है।

केदारनाथ धाम कपाट खुलने की तिथि 6 मई से 27 अक्टूबर कपाट बंद होने तक 15 लाख 63 हजार 278 लोग पहुंचे हैं। कपाट बंद होने तक इनमें से हेलीकॉप्टर से आने 15 लाख 1 हजार 795 तीर्थयात्री शामिल हैं। नवंबर तक बदरीनाथ-केदारनाथ कुल 32 लाख 52 हजार 841यात्री पहुंचे हैं।

यमुनोत्री धाम कपाट खुलने की तिथि 3 मई से 27 अक्टूबर कपाट बंद होने तक तक 4 लाख 85 हजार 688 लोग और गंगोत्री धाम कपाट खुलने की तिथि 3 मई से 26 अक्टूबर कपाट बंद होने तक 6 लाख 24 हजार 516 लोग धाम में तीर्थ यात्री दर्शन को पहुंचे। गंगोत्री-यमुनोत्री दोनों धामों में कुल पहुंचे यात्रियों की संख्या 11 लाख 10 हजार 204 है।

हेमकुंट साहिब-लोकपाल तीर्थ पहुंचे तीर्थयात्रियों की संख्या कपाट खुलने की तिथि 22 मई से 10 अक्टूबर कपाट बंद की तिथि तक 2 लाख 47 हजार है। चारधाम और हेमकुंट साहिब लोकपाल तीर्थ को मिलाकर कुल तीर्थयात्रियों की संख्या 46 लाख 33 हजार 45 है।

कपाट बंद होने की तिथियां:- बदरीनाथ धाम के कपाट शनिवार 19 नवंबर को बंद होंगे। केदारनाथ धाम 27 अक्टूबर, यमुनोत्री धाम 27 अक्टूबर और गंगोत्री धाम के कपाट 26 अक्टूबर को शीतकालीन बंद हो गए।