उत्तराखण्ड में वर्ष 2012 की तुलना में 2017 में मतदान घटा

0
587

उत्तराखण्ड में वर्ष 2012 की तुलना में 2017 में मतदान प्रतिशत 67.22 से घट कर 65.64 प्रतिशत पर रहा है। राज्य निर्वाचन आयोग के एक आंकड़े के अनुसार प्रदेश में इस बार 69 विधानसभा सीटों पर हुए चुनाव में कुल 4870879(48 लाख 70 हजार 889) मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। वर्ष 2012 में 6277956 मतदाता हुए और वर्ष 2017 में 7420710(69 विधानसभा क्षेत्र) मतदाता दर्ज हैं।
प्रदेश में इस बार 69.34 प्रतिशत महिलाओं और 62.28 प्रतिशत पुरूष मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया।
वहीं चमौली जिले के एक विधानसभा सीट कर्णप्रयाग पर नौ मार्च को चुनाव होना अभी बाकी है। इस सीट पर बसपा प्रत्याशी के सड़क दुर्घटना में निधन हो जाने कारण चुनाव स्थगित कर पड़ना था।

वहीं उत्तराखण्ड में पिछले दस वर्षो में प्रदेश भर में 13 लाख से अधिक मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। वर्ष 2007 के आकड़ों से तुलना करें तो 10 वर्ष में कुल 1327899(13 लाख 27 हजार 899) अधिक मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया है। वर्ष 2007 एवं 2012 के आंकड़ों में कर्णप्रयाग विधानसभा के आंकड़ें भी सम्मिलित हैं।
वर्ष 2007 में मतदाता सूची में कुल मतदाता 5985302(70 विधानसभा क्षेत्र), वर्ष 2012 में 6277956(70 विधानसभा क्षेत्र) मतदाता तथा वर्ष 2017 में 7420710(69 विधानसभा क्षेत्र) मतदाता दर्ज हुए। जबकि इस बार मतदाताओं की संख्या में 650954 की वृद्धि हुई है।
वर्ष 2017 में कुल 69.34 प्रतिशत महिलाओं और 62.28 प्रतिशत पुरूष मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया।