अब बिना अनुमति के नहीं होंगे सार्वजनिक कार्यक्रम, एडीजीपी

0
46

अपर पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था एपी अंशुमान ने बुधवार को पुलिस मुख्यालय में समीक्षा बैठक कर विभिन्न मेले, धार्मिक आयोजन एवं अन्य अवसरों पर भीड़ प्रबंधन के दृष्टिगत पुलिस विभाग की तैयारियां परखी। साथ ही समस्त परिक्षेत्र, जनपद प्रभारियों, पुलिस महानिरीक्षक, सुरक्षा, पुलिस उप महानिरीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, पुलिस अधीक्षक व रेल अधिकारियों संग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक कर आवश्यक निर्देश दिए।

अपर पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था एपी अंशुमान ने भीड़ प्रबंधन के दृष्टिगत जनपदों में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों को संवेदनशीलता से लिए जाने और थाना प्रभारियों को मौके पर जाकर भीड़ क्षमता, प्रवेश-निवास द्वार, पार्किंग आदि का आंकलन करने के उपरांत ही कार्यक्रम के लिए एनओसी दिए जाने के निर्देश दिए।

अपर पुलिस महानिदेशक ने कहा कि समस्त जनपद प्रभारी अपने-अपने जनपदों में होने वाले छोटे-बड़े आयोजनों के संबंध में एसओपी तैयार कर यथाशीघ्र पुलिस मुख्यालय को उपलब्ध कराएं। तदोपरांत पुलिस मुख्यालय भीड़ प्रबंधन के लिए एक विस्तृत एसओपी तैयार कर जनपदों को उपलब्ध कराएगा।

जनपदों में वर्ष में होने वाले समस्त मेले, त्योहारों एवं अन्य अवसरों पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों का वार्षिक कैलेंडर तैयार कर उसके अनुरूप ससमय पुलिस प्रबंध सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। कोई भी कार्यक्रम अनुमति के उपरांत ही आयोजित होंगे। बिना अनुमति के आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के आयोजकों के विरुद्ध नियमानुसार वैधानिक कार्रवाई की जाएगी। अपर पुलिस महानिदेशक ने कहा कि आयोजन की अनुमति के लिए 15 दिन पूर्व आवेदन किए जाने के संबंध में प्रचार-प्रसार कराया जाए। प्रत्येक आयोजन में भीड़ प्रबंधन के दृष्टिगत पर्याप्त पुलिस प्रबंध किए जाए। जनपदों में व्यवस्थापित आश्रमों एवं मठों के पदाधिकारियों से समन्वय स्थापित कर वर्ष में आयोजित किए जाने वाले समस्त कार्यक्रमों का विवरण प्राप्त कर उसके अनुरूप ससमय कार्रवाई सुनिश्चित करें।