उत्तराखंड : पीएमओ के अधिकारियों ने किया बदरीनाथ पुनर्निर्माण के कार्यों का स्थलीय निरीक्षण

0
260
बदरीनाथ

प्रधानमंत्री के प्रमुख सचिव, सलाहकार और उप सचिव गुरुवार को बदरीनाथ धाम पहुंचे। उन्होंने प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट बदरीनाथ मास्टर प्लान के अन्तर्गत संचालित पुनर्निर्माण कार्यों स्थलीय निरीक्षण कर समीक्षा की।

इस दौरान प्रमुख सचिव डॉ.पीके मिश्रा, सलाहकार अमित खरे और उप सचिव मंगेश घिल्डियाल ने बीआरओ बाईपास सड़क, वनवे लूप रोड, शेष नेत्र और बदरीश झील, अराइवल प्लाजा, आईएसबीटी, अस्पताल विस्तारीकरण एवं मंदिर सौन्दर्यीकरण कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करते हुए भगवान श्री बद्रीनाथ की पूजा और दर्शन कर देश की खुशहाली, प्रगति एवं समृद्वि की कामना भी की।

प्रमुख सचिव ने जिला प्रशासन समेत निर्माणदायी संस्थाओं को निर्माण कार्यों की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखते हुए समय पर सभी कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी कार्यदायी संस्थाओं में निर्माण सामग्री की उपलब्धता निरंतर बनी रहनी चाहिए। प्रमुख सचिव ने कहा कि बदरीनाथ के साथ ही माणा गांव और उसके आस पास के क्षेत्रों को माॅडल के रूप में विकसित किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में बदरीनाथ में पुनर्निर्माण के कार्य तेजी से चल रहे हैं। श्रद्धालुओं की सुविधा के दृष्टिगत रात दिन कार्य प्रगति पर है। आने वाले समय में बदरीनाथ में तीर्थयात्रियों को और भी बेहतर सुविधाएं मिलेंगी।

जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने प्रमुख सचिव को बदरीनाथ में संचालित कार्यों की प्रगति के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बद्रीनाथ मास्टर प्लान के अनुसार तेजी से कार्य किए जा रहे है। बीआरओ बाइपास, वन वे लूप रोड का निर्माण पूरा हो गया है। शेषनेत्र, बद्रीश झील और सिविक एमिनिटी सेंटर, अराइवल प्लाजा का कार्य अंतिम चरण में है। रिवरफ्रंट डेवलपमेंट प्रोजेक्ट पर भी तेजी से काम चल रहा है।

इस दौरान मुख्य सचिव डॉ. एसएस संधू, पर्यटन विभाग विशेष कार्याधिकारी भाष्कर खुल्बे, सचिव पर्यटन सचिन कुर्वे, संयुक्त मजिस्ट्रेट डा.दीपक सैनी, यात्रा मजिस्ट्रेट वरुणा अग्रवाल, अपर जिलाधिकारी डा.अभिषेक त्रिपाठी, आईएनआई डिजाइन कन्सलटेंट धर्मेश गंगाडी, पीआईयू के अधिशासी अभियंता विपुल सैनी, गावर कंपनी के प्रोजेक्ट डारेक्टर पीएल सोनी आदि मौजूद थे। प्रधानमंत्री कार्यालय के सभी वरिष्ठ अधिकारी आज रात्रि विश्राम बदरीनाथ धाम में ही करेंगे।