पौड़ी में जिंदा जलाई गई छात्रा ने सफदरजंग दिल्ली में तोड़ा दम

0
404

नयी दिल्ली, उत्तराखंड के पौड़ी के पास पेट्रोल डालकर जिंदा जलाई गई छात्रा नेहा सात दिन तक जूझने के बाद जिंदगी की जंग हार गई। छात्रा ने सफदरजंग अस्पताल में इलाज के दौरान रविवार सुबह को दम तोड़ दिया। मृतक छात्रा के परिजनों के अनुसार मौत करीब 11 बजे हुई।

पौड़ी परिसर में B.Sc. की छात्रा नेहा जो एक बहशी द्वारा पिछले रविवार को जिंदा जलाई गई थी ने आज सात दिन तक मौत से जूझने के बाद जिंदगी की जंग हार गई। छात्रा ने सफदरजंग अस्पताल में इलाज के दौरान आज सुबह दम तोड़ दिया। मृतक के मौसा ने बताया कि मौत करीब 11 बजे हुई।

आपको याद ही होगा कि नेहा गत रविवार को प्रायोगिक परीक्षा देकर लौट रही थी, उसी समय रास्ते में गहड़ गांव का मनोज सिंह उर्फ बंटी उसका पीछा करने लगा। कुछ देर बाद एक सुनसान जगह कच्चे रास्ते पर उसने छात्रा को जबरन रोककर उससे जबरदस्ती करनी शुरू कर दी, और फिर छात्रा के विरोध करने पर आरोपी दरिंदे ने उस पर पैट्रौल छिड़क कर आग लगा दी थी।