उत्तराखंड: गडकरी बोले, प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को दोबारा मौका दें

0
118

केंद्रीय सड़क,परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को दोबारा मौका दें। उन्होंने कहा कि अब उत्तराखंड बदल रहा है। इसके लिए प्रदेश में भाजपा की सरकार जरूरी है। गडकरी मंगलवार को खटीमा के थारू इंटर कॉलेज में विजय संकल्प यात्रा के समापन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

केंद्रीय सड़क मंत्री गडकरी ने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में उत्तराखंड के नौजवानों को काम मिलेगा। उत्तराखंड को भय, भूख और भ्रष्टाचार से मुक्त करना है। उन्होंने उत्तराखंड में सड़कों के निर्माण से संबंधित विभिन्न योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि राज्य में सबसे बड़ी समस्या सड़कों की थी कि इसलिए सड़कों का जाल बिछाने हेतु केंद्र सरकार ने 2 लाख करोड़ रुपये मंजूर किए थे। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में यह क्षेत्र विश्व के मानचित्र पर होगा। उन्होंने कहा कि कैलाश मानसरोवर जाने वाले श्रद्धालु इसी रास्ते से जाते हैं। कैलाश मानसरोवर जाने वाली सड़क के विस्तारीकरण का कार्य चल रहा है और अगले एक वर्ष तक यह सड़क बन कर तैयार हो जाएगी। उसके बाद श्रद्धालुओं को मानसरोवर जाने के लिए चीन, नेपाल ,सिक्किम जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी बल्कि वह उत्तराखंड से सीधे कैलाश मानसरोवर पहुंचेंगे। इस काम में 5000 करोड़ रुपये का खर्च आएगा।

-आने वाले समय में उत्तराखंड से सीधे कैलाश मानसरोवर पहुंच सकेंगे श्रद्धालु

-गडकरी ने की 54 किलोमीटर लंबी खटीमा रिंग रोड निर्माण की घोषणा

-मैं कहीं भी रहूं पर मेरी आत्मा खटीमा के लोगों के साथ रहेगी: मुख्यमंत्री धामी

केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा उत्तराखंड बदल रहा है और यहां पर बिछ रहे सड़कों के जाल से उत्तराखंड समृद्ध बनेगा, क्योंकि इससे पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने 2022 चुनाव में एक बार फिर भाजपा को मौका देने का अपील करते हुए कहा कि धामी के नेतृत्व में उत्तराखंड के नौजवानों को काम मिलेगा। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड को भय भूख भ्रष्टाचार आतंकवाद से मुक्त कराना है। उन्होंने 54 किलोमीटर लंबी खटीमा रिंग रोड निर्माण की घोषणा भी की।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि विजय संकल्प यात्रा में शामिल लोगों की उत्साह से स्पष्ट है कि उत्तराखंड में एक बार फिर कमल खिलने वाला है। उन्होंने कहा कि यदि खटीमा की जनता ने उन्हें विधायक नहीं बनाया होता तो उन्हें मुख्य सेवक के रूप में काम करने का अवसर नहीं मिलता। उन्होंने कहा कि बहुत से निर्माण कार्य स्वीकृत हो चुके हैं और जल्द ही उनका कार्य शुरू हो जाएगा ।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि बहुत सारे लोग खटीमा से चुनाव लड़ने संबंधी उनसे सवाल करते हैं, लेकिन मैं कहीं भी रहूं पर मेरी आत्मा खटीमा के लोगों के साथ रहेगी। खटीमा की जनता मेरे दिल में रहेगी और मैं आपकी सेवा करना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि अब पहले जैसी परिस्थिति नहीं है, मुख्य सेवक के रूप में पूरे प्रदेश की सेवा की जिम्मेदारी मिली है। इसलिए मैं आपके बीच सशरीर ना रहूं पर मेरी आत्मा, मन, दिमाग हमेशा खटीमा के लिए सोचता रहेगा।

उन्होंने कहा कि उनको प्रदेश की जनता की सेवा के लिए बहुत कम समय मिला, लेकिन उसके बावजूद उन्होंने सभी वर्गों के हितों के लिए 500 से ज्यादा फैसले लिए और साथ ही उनका शासनादेश जारी कर वित्तीय प्रबंधन भी किया। सभा को केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट पश्चिमी बंगाल के सांसद लॉकेट चटर्जी भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने भी संबोधित किया।इससे पहले विजय संकल्प यात्रा खटीमा मुख्य बाजार से होते हुए स्मारक स्थल में संपन्न हुई।

इस अवसर पर केंद्रीय कैबिनेट मंत्री यतिश्वरानंद, भाजपा जिला अध्यक्ष बरोड़ा, दर्जा मंत्री सुरेश परिहार, विधायक प्रेम सिंह राणा, दान सिंह रावत, विवेक सक्सेना आदि मौजूद थे।