उत्तराखंड : बहुचर्चित अंकिता भंडारी हत्याकांड की अगली सुनवाई जिला न्यायालय पौड़ी में

0
17
FILE

उत्तराखंड के बहुचर्चित अंकिता भंडारी हत्याकांड पर अगली सुनवाई अब पौड़ी जिला न्यायालय में होगी। सोमवार को न्यायाधीश भावना पांडे की अदालत ने अब इस मामले की सुनवाई को पौड़ी जिला न्यायालय को स्थानान्तरित कर दिया है। उन्होंने बताया कि एसआईटी का इस मामले के मुख्य आरोपित पुलकित आर्य का नार्को टेस्ट से पहले पॉलीग्राफ टेस्ट कराए जाने की जानकारी मिली है।

गौरतलब है कि गत 18 सितंबर को अंकिता भंडारी की रिसॉर्ट से लापता हो गयी थी। अगले दिन 19 सितंबर को उसका शव एक नहर से बरामद किया गया था। अंकिता की हत्या नहर में धक्का देकर किए जाने की बात सामने आई थी। इस घटना में वनन्तरा रिजार्ट के मालिक पुलकित आर्य और उसके रिजार्ट के दो प्रबंधकों के नाम सामने आए थे, जिन्हें उसी समय गिरफ्तार कर लिया गया था।

मृतका अंकिता भंडारी जो पौड़ी के एक गांव की रहने वाली थी वनन्तरा में रिसेप्शनिस्ट के रूप में नौकरी करती थी। आरोप है कि आरोपित उस पर किसी वीआईपी गेस्ट को स्पेशल सर्विस देने के लिए दबाव बना रहे थे, जिसको लेकर उसका पुलकित और अन्य के साथ झगड़ा हुआ। इसके परिणाम स्वरूप आरोपित उसे घुमाने के बहाने ले गए और नहर में धक्का देकर मार दिया।

इस मामले के तूल पकड़ने पर सीएम धामी ने इसकी जांच एसआईटी को सौंपी थी जो इस मामले में चार्जशीट दाखिल कर चुकी है। एसआईटी ने आरोपितों के नार्को और पॉलीग्राफ टेस्ट की अर्जी भी अदालत में दी थी, जिसमें सिर्फ पुलकित ने कुछ शर्तों के साथ टेस्ट कराने की सहमति दी है बाकी दो आरोपित टेस्ट कराने को तैयार नहीं है। एसआईटी अब मुख्य आरोपित पुलकित का नार्को टेस्ट से पहले पॉलीग्राफ टेस्ट कराएगी जिसकी तैयारी कर ली गई है। एसआईटी का प्रयास है कि बाकी दो आरोपित भी नार्को टेस्ट कराने पर सहमत हो जाएं ताकि उनका भी टेस्ट हो सके।