जिले में 2800 दिव्यांग चिह्नित, 1870  के नाम मतदाता सूची में शामिल 

0
295
गोपेश्वर,  सुगम मतदान के मद्देनजर जिला स्तरीय निगरानी समिति की बैठक हुई। इसमें जनपद के सभी दिव्यांग मतदाताओं का डेटा अपडेट करने और पात्र दिव्यांग मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में शामिल करने आदि के संबध में चर्चा की गई।
प्रभारी जिलाधिकारी हंसादत्त पांडे की अध्यक्षता में संपन्न बैठक में जिला निर्वाचन अधिकारी ने समाज कल्याण अधिकारी को मुख्य चिकित्सा अधिकारी के साथ समन्वय बनाकर जिले में सभी दिव्यांग मतदाताओं को शतप्रतिशत चिह्नित करने के निर्देश दिए। कहा कि, “18 वर्ष के सभी दिव्यांग मतदाताओं का नाम सूची में शामिल करने कार्रवाई की जाय। ताकि चुनाव के दौरान कोई भी दिव्यांग मतदाता अपने अधिकारों से वंचित न रहे। “
जिला निर्वाचन अधिकारी ने 80 साल से अधिक बुजुर्ग एवं दिव्यांग मतदाता के लिए मतदेय स्थलों में डोली, स्टैचर, रैम्प, छड़ी आदि आवश्यक संशाधनों की व्यवस्था भी रखने के भी निर्देश दिए। कहा कि आने वाले चुनावों में बेहतर सुविधा के लिए योजना तैयार करें।
जिला स्तरीय निगरानी समिति की बैठक में जानकारी दी गई कि जिले में लगभग दो हजार आठ सौ दिव्यांग चिह्नित हैं, जिसमें से 18 या इससे अधिक आयु के 1870 दिव्यांगजनों के नाम मतदाता सूची में शामिल किए गए हैं। विगत लोक सभा चुनाव में विधानसभा बदरीनाथ से 254, थराली से 336 व कर्णप्रयाग से 282 सहित कुल 870 दिव्यांग मतदाताओं ने अपने मतदाधिकार का प्रयोग किया।
महिला एवं युवक मंगल दलों, छात्र-छात्राओं तथा स्थानीय लोगों की मदद से आवश्यक संशाधनों के साथ दिव्यांग मतदाताओं को बूथ तक लाया ले जाया गया। इस अवसर पर स्वीप कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डाॅ. एमएस सजवाण, जिला शिक्षा अधिकारी नेरश कुमार, हल्दियानी, सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी बीएस रावत आदि मौजूद थे।