उत्तराखंड: मोदी बोले, कुछ राजनीतिक दल देश के लोगों को आश्रित बनाए रखना चाहते हैं

0
62
मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि कुछ राजनीतिक दलों की मकसद है लोगों की आवश्यकताएं पूरी ना करो और उनको अपना पिछलग्गू बनाकर रखो। यह लोग जनता जनार्दन को ताकतवर नहीं बनने देना चाहते। वह आज यहां परेड मैदान में जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इन राजनीतिक दलों ने जनता में यह सोच पैदा कर दी है कि जो कुछ मिलेगा सरकार से ही मिलेगा। यह लोग देश के सामान्य मानव का स्वाभिमान, गौरव सोची समझी रणनीति के तहत कुचल रहे हैं। यह आश्रित बनाने की परंपरा है, यह लगातार ऐसा करते रहें और किसी को भनक भी नहीं लगी। इस एप्रोच से ठीक अलग हमने जो रास्ता चुना है, वह मार्ग कठिन है। वह मार्ग मुश्किल है, लेकिन लेकिन देश और देश के लोगों के हित में है हमारा नारा है सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास।

प्रधानमंत्री ने कहा कि टीकाकरण के मामले में उत्तराखंड आगे है। इसके लिए मैं धामी सरकार और उनके सहयोगियों को बधाई देता हूं। मेडिकल में ढांचागत विकास की बहुत आवश्यकता है। इस प्रदेश में नए ऑक्सीजन के प्लांट भी लगाए गए हैं। उन्होंने कहा कि हर कोई चाहता है कि उसकी संतान डॉक्टर बने, इंजीनियर बने। उनकी संतान प्रबंधन क्षेत्र में जाए। अगर नए संस्थान नहीं बनेंगे और सीटों की संख्या नहीं बढ़ेगी तो आप का संकल्प पूरा होगा क्या? ऐसे में व्यवस्थागत विकास आवश्यक है। देश में नए आईआईटी, नए आईआईएम विद्यार्थियों के लिए नए प्रोफेशनल कोर्स बन रहे हैं। इसका आधार, ढांचागत विकास को मजबूत करना है।उन्होंने कहा कि हम इस क्षेत्र में आगे बढ़ रहे हैं। युवा पीढ़ी को सम्मानजनक ढंग से जीने का आधार दे रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कुछ राजनीतिक दलों द्वारा समाज में केवल एक तबके को किसी खास धर्म को महत्व दिया जा रहा है। यह राजनीति में उचित नहीं है। राजनीति में सब पर ध्यान देना आवश्यक है। हमारे लिए वोट बैंक नहीं जनता महत्वपूर्ण है। इस तरह की राजनीति करने वाले जनता को मजबूत नहीं होने देना चाहते, वह चाहते हैं कि जनता-जनार्दन हमेशा मजबूर बनी रहे। उनका मकसद है जनता को अपना मोहताज बनाओ ताकि उनका ताज सलामत रहे।

उन्होंने कहा कि हमारी पर योजनाओं का लाभ माताओं- बहनों को हुआ है। डबल इंजन की सरकार ने उत्तराखंड के ढांचागत विकास पर भी विशेष कार्य किया है। उत्तराखंड में 3 नए मेडिकल कॉलेज निर्मित किए गए हैं। इतने छोटे प्रदेश में तीन मेडिकल कॉलेज आज ही हरिद्वार में नए मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास किया गया है। कुमाऊं में भी एम्स की सेवाएं शुरू हो जाएंगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आपके पास धामी के नेतृत्व में युवा शक्ति भी है। हमारे पास अनुभवी नेताओं की टीम है, जो उत्तराखंड के उज्ज्वल भविष्य के लिए समर्पित है। उन्होंने कहा कि जो देशभर में बिखर रहे हैं, वह उत्तराखंड को कैसे निखार सकते हैं। आपका विकास उत्तराखंड का डबल इंजन ही कर सकता है। उन्होंने होमस्टे के बारे में चर्चा करते हुए कहा कि अब होम स्टे के कारण उत्तराखंड में होटलों की कमी नहीं है। अच्छी सुविधाओं के साथ घर में कुछ कमरे लोगों के ठहरने के लिए बनाए गए हैं, जो यात्रियों के रहने और पयर्टन में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि इसी तरह का परिवर्तन हम देश के हर एक कोने में लाना चाहते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ले कहा कि होम स्टे का प्रयोग उत्तराखंड के लोगों को काफी प्रभावी बना रहा है। कहा कि जब हमारी सरकार उन लोगों को निशुल्क घर बना कर देती है तो इससे उसके जीवन में बड़ा परिवर्तन आता है। गरीबों को निशुल्क ₹500000 की स्वास्थ्य सुविधा मिलती है। कोरोना में हमें उससे मुफ्त इलाज, मुफ्त राशन और विकास की ओर ले जाता है। अब विकास की लहर हम नहीं थके और अधिक विश्वास तथा संकल्पों के साथ आगे बढ़ेंगे।