मुंबई से उत्तराखंड पहुंचा कोरोना, जिलों में बरती जा रही सतर्कता

0
340
कोरोना

उत्तराखंड के लिये हजारों की तादाद में आ रहे प्रवासी परेशानी का सबब बन रहे हैं। इन संक्रमित प्रवासियों में बड़ी संख्या मुंबई या महाराष्ट्र से आने वालों की है। चार दिन पहले तक ग्रीन जोन में शामिल चंपावत जिले में कोरोना का संक्रमण मुंबई से पहुंचा है। जिले में अब तक आठ लोग कोरोना पाॅजिटिव पाए गए हैं।। सभी मरीजों की ट्रेवल हिस्ट्री मुंबई से जुड़ी है। इस कारण प्रशासन मुंबई से आने वाले प्रवासियों पर विशेष निगरानी रख रहा है। डीएम एसएन पांडेय ने महाराष्ट्र से आने वाले प्रवासियों के सैंपल बिना किसी देरी के तत्काल परीक्षण के लिए भेजने के निर्देश दिए हैं।

महाराष्ट्र से आने वालों के लिए अलग बनाया गया एकांतवास केन्द्र

पौड़ी में कोरोना पॉजिटिव के केस बढ़ते देखते हुए प्रशासन अधिक चौकन्ना हो गया है। जिला प्रशासन ने महाराष्ट्र से आने वाले प्रवासियों के लिए शहर से दूर केंद्रीय विद्यालय भवन में एकांतवास (क्वारंटाइन) केंद्र बनाया है। जनपद में वर्तमान समय में कोरोना संक्रमण के आठ मामले एक्टिव हैं, जबकि एक कोरोना पॉजिटिव स्वस्थ हो चुका है। इसके अलावा घर पर एकांतवास के दौरान एक कोरोना पॉजिटिव की मौत हो गई है। हालांकि प्रशासन उक्त व्यक्ति की मौत का कारण टीबी बता रहा है। पिछले दो दिनों में जनपद में छह कोरोना पॉजीटिव मामले आए थे, जिससे प्रशासन सकते में हैं। महाराष्ट्र राज्य में सबसे अधिक कोरोना संक्रमण को देखते हुए पौड़ी प्रशासन ने महाराष्ट्र से आने वाले प्रवासियों के लिए शहर से दूर नवनिर्मित केंद्रीय विद्यालय भवन में अलग एकांतवास केंद्र बनाया है। एसडीएम अंशुल सिंह ने बताया कि वर्तमान में यहां 38 लोग एकांतवास में रह रहे हैं।