उत्तराखंड: आईएएस अफसरों के विभागों में बड़ा फेरबदल

0
94
ई-गवर्नेस

उत्तराखंड सरकार ने आईएएस अफसरों में बंपर फेरबदल किया है। डॉ. आर राजेश कुमार देहरादून के नए जिलाधिकारी और बृजेश कुमार संत मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष होंगे। सोमवार देर रात सीएम पुष्कर धामी की मंजूरी के बाद सचिव (कार्मिक) अरविंद सिंह ह्यांकी ने यह आदेश किए हैं। अपर मुख्य सचिव मनीषा पंवार से कृषि एवं कृषक हटाकर अब वित्त जबकि आनंद वर्धन से उच्च शिक्षा वापस लेकर गृह एवं कारागार की जिम्मेदारी दी है। प्रमुख सचिव आरके सुंधाशू से ग्रामीण नियंत्रण वापस ले लिया है, जबकि सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम से विद्यालयी शिक्षा हटाकर कृषि एवं कृषक कल्याण का दायित्व सौंपा है।

सचिव नितेश झा से गृह व कारागार वापस लेकर पंचायती राज एवं निदेशक पंचायती राज, राधिका से ऊर्जा, वैकल्पिक ऊर्जा एवं स्थानिक आयुक्त नई दिल्ली की अहम जिम्मेदारी वापस विद्यालयी शिक्षा व औद्योगिक विकास तथा सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग विभाग सौंपें हैं। सचिन कुर्वे से औद्योगिक विकास वापस ले लिया है, जबकि सौजन्या को ऊर्जा एवं वैकल्पिक ऊर्जा की नई जिम्मेदारी दी है। सचिव डा. रंजीत सिन्हा गृह व कारागार की अतिरिक्त जिम्मेदारी संभालेंगे तो एसए मुरुगेशन से कार्यक्रम प्रबंधक पीआईयू (रोड एवं ब्रिज), यूडीआरपी, कार्यक्रम प्रबंधक व सिंचाई वापस लेकर खेल, युवा कल्याण व निदेशक खेल बनाया गया है।

एचसी सेमवाल से पंचायतीराज हटाकर सिंचाई और डा. पंकज कुमार पांडेय से सामान्य प्रशासन, प्रोटोकाल व महानिदेशक चिकित्सा शिक्षा हटाकर राजस्व का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा है। सचिव विनोद रतूड़ी से उच्च शिक्षा वापस ले लिया है। प्रभारी सचिव बृजेश कुमार संत से खेल एवं युवा कल्याण लेकर मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण का उपाध्यक्ष बनाया है, जबकि भूपाल सिंह मनराल से कार्मिक एवं सतर्कता, प्रबंध निदेशक बहुउद्देशीय वित्त विकास निगम लेकर खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले व आयुक्त खाद्य की जिम्मेदारी दी है।

विजय कुमार यादव से विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, सूचना प्रौद्योगिकी व लोनिवि वापस लेकर कौशल विकास एवं सेवायोजन, डा. नीरज खैरवाल से प्रबंध निदेशक ऊर्जा व निदेशक उरेडा हटा दिया है और ग्रामीण निर्माण विभाग व प्रबंध निदेशक उत्तराखंड परिवहन निगम बनाया है। आईएएस दीपक रावत से कुंभ मेलाधिकारी व एचडीए उपाध्यक्ष का दायित्व ले लिया है। वे अब प्रबंध निदेशक यूपीसीएल व निदेशक उरेडा का दायित्व देखेंगे।

दीपेंद्र चौधरी से राज्य संपत्ति अधिकारी की जिम्मेदारी हटाई है। वहीं, विनोद कुमार सुमन को सामान्य प्रशासन व प्रोटोकाल की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी है। रणवीर सिंह चौहान से एमडीडीए उपाध्यक्ष हटाकर आयुक्त आबकारी की अतिरिक्त दायित्व दिया है। दून के डीएम रहे आशीष श्रीवास्तव अब सिर्फ सीईओ स्मार्ट सिटी का काम देखेंगे, जबकि अभिषेक रूहेला से प्रबंध निदेशक परिवहन निगम हटाकर बाध्य प्रतीक्षा सूची में रखा है।