कुंभ कोरोना टेस्ट फर्जीवाड़ाः 90 फीसदी जांच हुई पूरी

0
96
कुंभ

कुंभ कोरोना टेस्ट फर्जीवाड़े में जिलाधिकारी के आदेश पर मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में गठित की गई टीम ने अपनी जांच लगभग पूरी कर ली है। इस मामले में हरिद्वार जिलाधिकारी सी रविशंकर ने बताया कि जांच टीम 90 प्रतिशत फोन नंबरों का क्रॉस चेक कर चुकी है। जल्द ही इसकी रिपोर्ट मिल जाएगी। रिपोर्ट मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

जिलाधिकारी सी रविशंकर ने कहा कि जांच रिपोर्ट के आधार पर गिरफ्तारी की जाएगी। जांच रिपोर्ट एसआईटी को दी जाएगी। कुंभ मेला स्वास्थ्य विभाग की तरफ से अलग से की जा रही जांच को हरिद्वार जिलाधिकारी ने खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के जरिए जिला स्तर पर जांच सौंपी गई थी, जिसके लिए जांच टीम गठित की गई थी। इसीलिए समानांतर जांच करने का कोई औचित्य नहीं है।

जिलाधिकारी ने कहा कि जांच निर्धारित समय में पूरे तरीके से की जा रही है। जांच 90 प्रतिशत पूरी हो चुकी है। जल्द ही रिपोर्ट सौंप दी जाएगी। रिपोर्ट के आधार पर ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

दरअसल, हरिद्वार कुंभ में कोरोना की जांच के लिए 10 प्रयोगशालाओं को अधिकृत किया गया था, जिसमें से एक दिल्ली की मैक्स कॉरपोरेट सर्विस थी। मैक्स कॉरपोरेट सर्विस ने अपनी अधिकृत दो लैब (दिल्ली की डॉ. लाल चंदानी और हरियाणा के हिसार की नलवा) को आगे ये जिम्मेदारी दी थी। इन दोनों लैब की करीब एक लाख कोरोना जांच संदेह के घेरे में हैं।