जोशीमठ की आपदा को राष्ट्रीय आपदा घोषित किया जाए : करन माहरा

0
33
जोशीमठ

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जोशीमठ को इस हाल में पहुंचाने के लिए जो भी कारक जिम्मेदार हैं, उन्हें खोजकर तत्काल समाधान खोजे जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि आपदा को राष्ट्रीय आपदा घोषित किया जाना चाहिए। ताकि प्रभावितों को समय रहते हुए उनकी समस्याओं का समाधान हो सके।

पिछले दो दिनों से कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष करन महारा, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, विधायक बदरीनाथ राजेंद्र भंडारी, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल सहित तमाम कांग्रेस के नेता जोशीमठ में डेरा जमाए हुए हैं। उन्होंने सोमवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि जोशीमठ को यूं ही उसके हाल पर नहीं छोड़ा जा सकता है।

उनका आरोप है कि सरकार एनटीपीसी को बचाने का प्रयास कर रही है जबकि जनता का कहना है कि जोशीमठ को इस हाल में पहुंचाने के लिए एनटीपीसी सबसे ज्यादा जिम्मेदार है। सरकार को इस पर भी ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार को चाहिए कि पीड़ितों का हर हाल में समुचित विस्थापन किया जाए और उनकी क्षति का आंकलन करते हुए बदरीनाथ धाम की तर्ज पर उन्हें मुआवजा दिया जाए। यदि जोशीमठ को बचाने के लिए जो भी समाधान किये जा सकते है उन्हें तत्काल किया जाना चाहिए। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि कांग्रेस पार्टी पीड़ितों के साथ खड़ी है और तब तक उनके साथ है जब तक की हर पीड़ित परिवार का पुनर्वास नहीं हो जाता है।