झंडा मेला शुरू, जयकारों से गूंज उठा दरबार

0
409
झंडा

श्रद्धा एवं आस्था का प्रतीक ऐतिहासिक झंडा मेला में शनिवार को आस्था का सैलाब उमड़ा पड़ा। देश-विदेश से बड़ी संख्या में संगतें व श्रद्धालु गुरु की नगरी पहुंचे हैं। सुबह से झंडे को उतारने की प्रक्रिया शुरू है। इस दौरान जयकारों से दरबार के आसपास का क्षेत्र गूंज उठा। दरबार साहिब के सज्जादानशीन महंत देवेन्द्र दास महाराज की अगुआई में झंडे का आरोहण किया जाएगा। पंजाब के हरभजन सिंह दर्शनी गिलाफ चढ़ाएंगे।

श्री गुरु राम राय दरबार साहिब में 86 फीट ऊंचे और 3 फीट मोटे झंडेजी के आरोहण के प्रकिया के साथ आज से झंडा मेला शुरू हो गया है। मेले के सुरक्षा को लेकर पुलिस ने चाकचौबंद व्यवस्था की गई है।

सुबह से पूजा अर्चना कर झंडे को उतारने की प्रक्रिया शुरू हुई। संगतों की ओर से दूध, दही, घी, मक्खन, गंगाजल और पंचगव्यों से झंडे को स्नान के साथ विधिवत वैदिक विधान से पूजा अर्चना के पश्चात अरदास की गई। सुबह दस बजे से झंडे (पवित्र ध्वज दण्ड) पर गिलाफ चढ़ाने का कार्य शुरू हुआ। दोपहर 2 बजे से 4 बजे के बीच झंडे का विधिवत आरोहण किया जाएगा। इस बार पंजाब के होशियारपुर निवासी हरभजन सिंह पुत्र हरीसिंह को दर्शनी गिलाफ चढ़ाएंगे।

दरबार साहिब, झंडा मेला आयोजन समिति के सह व्यवस्थापक विजय गुलाटी ने बताया कि परंपरानुसार झंडा आरोहण के तीसरे दिन नगर परिक्रमा का आयोजन किया जाता है। दरबार साहिब देहरादून के महंत देवेन्द्र दास महाराज की अगुआई में सोमवार 01 अप्रैल को ऐतिहासिक नगर परिक्रमा होगी। इसके बाद ब्रह्मलीन महंत साहिबान के समाधि स्थल पर मत्था टेकने के बाद सहारनपुर चौक होते हुए दोपहर 12 बजे नगर परिक्रमा दरबार साहिब पहुंचकर सम्पन्न होगी।

एलईडी स्क्रीन पर मेले का सीधा प्रसारण

दरबार साहिब मेला समिति ने दरबार साहिब परिसर में 5 एलईडी स्क्रीनों की व्यवस्था की गई है। एलईडी स्क्रीनों, फेसबुक एवं यूट्यूब पर मेले का सजीव प्रसारण किया जा रहा है।

झंडे मेले का यह है ऐतिहासिक महत्व

सिखों के सातवें गुरु गुरु हर राय के बड़े पुत्र गुरु राम राय महाराज का जन्म सन् 1646 ई. में जिला होशियारपुर के कीरतपुर, पंजाब में हुआ था। गुरु राम राय महाराज ने देहरादून को अपनी तपस्थली चुना व दरबार साहिब में लोक कल्याण के लिए विशाल झंडा लगाकर श्रद्धालुओं को ध्वज से आशीर्वाद लेने का संदेश दिया था। होली के पांचवें दिन चैत्रवदी पंचमी को गुरु राम राय जी महाराज के जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है व हर साल झंडे मेल का आयोजन किया जाता है। उल्लेखनीय है कि गुरु राम राय महाराज के जन्मदिवस के अवसर पर हर साल दरबार साहिब, देहरादून में झंडे मेले का आयोजन किया जाता है।