राष्ट्रपति ने होटल में बर्तन धोने वाले छात्र को भेंट की रेसिंग साइकिल

0
115
राष्ट्रपति

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को होटल में बर्तन धोने वाले स्कूली छात्र रियाज के साइकिलिंग के जुनून को सम्मान देते हुए उसे एक रेसिंग साइकिल भेंट की है। रियाज के लिए यह ईद का सबसे यादगार तोहफा है।

हाल ही में मीडिया में आई खबरों के माध्यम से राष्ट्रपति को रियाज़ के संघर्ष की कहानी का पता चला था। वह स्वयं की साइकिल नहीं होने के कारण ठीक से नियमित अभ्यास नहीं कर पा रहा था। इसके बाद राष्ट्रपति ने आज शुक्रवार को रियाज़ को राष्ट्रपति भवन बुलाकर रेसिंग साइकिल देने का फैसला किया। राष्ट्रपति सचिवालय के अनुसार राष्ट्रपति ने रियाज को साइकिल भेंट करते हुए साइकिलिंग का अंतरराष्ट्रीय चैंपियन बनने और कड़ी मेहनत के बल पर अपने सपने को साकार करने की कामना की है।

दिल्ली के आनंद विहार में सर्वोदय बाल विद्यालय में कक्षा 9 का छात्र रियाज मूल रूप से बिहार के मधुबनी जिले का रहने वाला है। उनके परिवार के सदस्य- उनके माता-पिता, दो बहनें और एक भाई मधुबनी में रहते हैं, जबकि रियाज उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिला के महाराजपुर में किराए के मकान में रहते हैं। पिता को आर्थिक सहयोग देने के लिए रियाज खाली समय में गाजियाबाद में एक होटल में बर्तन धोने का काम करते हैं।

साइकिल रेसिंग रियाज का जुनून है और वह पढ़ाई और काम करने के बाद कठिन अभ्यास करता है। उसने 2017 में दिल्ली स्टेट साइकिलिंग चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीता था। गाजियाबाद के जिला मजिस्ट्रेट के अनुसार वह गुवाहाटी में एक स्कूल गेम्स के कार्यक्रम में भाग लेने गया और राष्ट्रीय स्तर पर चौथी रैंक हासिल की थी।
रियाज़ की कहानी उन संघर्षशील युवाओं के लिए शिक्षाप्रद है, जो समाज के वंचित वर्ग से आते हैं और फिर भी अपने जीवन में बड़े सपने देखने की हिम्मत करते हैं। रियाज़ अभी प्रशिक्षक प्रमोद शर्मा से पेशेवर प्रशिक्षण ले रहा है। वह नियमित रूप से दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में प्रशिक्षण लेता है। दुर्भाग्य से उसे अपने अभ्यास के लिए साइकिल उधार लेनी पड़ती थी।