इस बार हरिद्वार महाकुंभ होगा एक माह का

0
111
महाकुंभ
कोरोना के चलते हरिद्वार महाकुंभ 2021 इस बार एक माह होगा। यानी 1 अप्रैल से 30 अप्रैल तक महाकुंभ का आयोजन किया जाएगा। कुंभ की व्यवस्थाओं को पूरा करने के लिए प्रशासन की तैयारियां अंतिम चरण में हैं। व्यवस्थाएं लगभग पूरी हो चुकी हैं। जल्द ही अधिसूचना जारी कर दी जाएग।
 मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने महाकुंभ की स्थिति स्पष्ट करते हुए बताया कि इस एक माह का हरिद्वार महाकुंभ होगा। केंद्र सरकार की तरफ से गाइडलाइन्स भेजी गईं थीं, उसके अनुसार काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कुंभ की एसओपी पहले ही जारी हो चुकी है। जल्दी ही इसकी अधिसूचना भी जारी हो जाएगी।
मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने बताया कि कोरोना के चलते इस बार की अलग परिस्थितियां हैं। कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में लोगों को सहयोग देना होगा। महाकुंभ के दौरान कोई भी स्पेशल ट्रेन नहीं चलाई जाएगी, इस बाबत मुख्य सचिव की ओर से रेलवे मंत्रालय को पत्र भी भेजा गया था जिस पर सहमति बन गई है। लिहाजा, सिर्फ महाकुंभ क्षेत्र से यात्रियों को बाहर ले जाने के लिए ट्रेनों की व्यवस्था की जाएगी। पहले तय किया गया था कि महाकुंभ को लेकर जो स्पेशल ट्रेन चलाई जाएगी, उस पर रोक लग चुकी है। महाकुंभ में कोई भी अतिरिक्त बस लगाने से पहले सरकार से परमिशन लेना अनिवार्य होगा।
मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने बताया कि महाकुंभ के लिए 1,46,000 वैक्सीन डोज प्राप्त हो गई हैं। वैक्सीन कर्मचारियों और व्यापारियों को महाकुंभ से पहले ही लगा दी जाएगी। डीजीपी अशोक कुमार का कहना है कि कुंभ की तैयारियां जारी हैं। 19 फरवरी को पुलिस और खुफिया एजेंसी के अधिकारियों के साथ अंतरराज्यीय बैठक आयोजित की जाएगी। नए घाट, पुल, पार्किंग, फोर लेन हाईवे बन चुके हैं।
महाकुंभ आने वाले यात्री रजिस्ट्रेशन के लिएwww.haridwarkumbhmela2021.com पर आवेदन कर सकते हैं। आरोग्य सेतु एप होना भी अनिवार्य है। पवित्र स्नान के लिए केवल 20 मिनट का ही समय दिया जाएगा। इस बार कुंभ मेले में बिना रजिस्ट्रेशन और बिना कोविड निगेटिव रिपोर्ट प्रवेश नहीं मिलेगा। सामूहिक भजन गायन और भंडारे पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा।