2310 करोड़ की कमाई का लक्ष्य है नई आबकारी नीति से

0
539

बुधवार को त्रिवेंद्र सिंह सरकार ने राज्य के लिये नई आबकारी नीति की घोषणा कर दी। इसके तहत:

  • साल 2017-18 के लिये आबकारी विभाग के लिये 2310 करोड़ की कमाई का लक्ष्य रखा गया है। साल 2016-17 के लिये ये आंकड़ा 1905.7 करोड़ रहा।
  • हर जिले में इस लक्ष्य को आवाश्यकता अनुसार बांटा गया है। 
  • राज्य के 4 मैदानी जिलों को छोड़कर 9 जिलों में देशी/विदेशी/बीयर की दुकानों के खुलने का समय 12.00 बजे से शाम 6.00 बजे तक और मैदानी जिलों में देशी/विदेशी/बीयर की दुकानों के खुलने का समय 10.00 से रात 10.00 बजे तक होगा।
  • एम.आर.पी. में सैस 02 प्रतिशत लिया जायेगा, जिसमें से एक प्रतिशत सड़क सुरक्षा हेतु तथा एक प्रतिशत सामाजिक सुरक्षा के लिये लिया जायेगा।
  • शराब की खरीद पर दुकानदार को कम्प्यूटर रसीद देना अनिवार्य होगा और दुकान में स्वैप मशीन रखना भी अनिवार्य होगा।
  • ओवर रेट के प्रकरण बार-बार पाये जाने या दुकानदार द्वारा कम्प्यूटर प्रिन्टेड रसीद न देने पर छठे उल्लंघन में दुकान निरस्त कर दी जायेगी।
  • जी.एम.वी.एन. और के.एम.वी.एन. को अपने गेस्ट हाउसों  के लिये बार लाइसेंस पर 50 प्रतिशत की छूट मिलेगी।

राज्य के लिया शराब से होने वाली कमाई एक बड़ा आमदनी का जरिया है। वहीं लंबे समय से राज्य के कई इलाकों में शराब बंदी की मुहिम रफ्तार पकड़ रही है। ऐसे में सरकार ने दोनों पक्षों को साथ लेकर चलने की कोशिश तो की है लेकिन ये कोशिश लोगों को कितना सुहाती है ये तो आने वाला वक्त ही बतायेगा।