यूकाडा के महाप्रबंधक की हेलीकॉप्टर के टेल रोटर की चपेट में आने से हुई मौत

0
210

जीएमवीएन हेलीपैड केदारनाथ में रविवार को हेलीकॉप्टर के टेल रोटर से महाप्रबंधक वित्त (यूकाडा) अमित सैनी का सिर कटने से मौत हो गई। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने यूकाडा के महाप्रबंधक वित्त अमित सैनी की दुःखद मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति और शोक संतप्त परिजनों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से कामना की है।

आपदा प्रबंधन अधिकारी नंदन सिंह रजवार ने बताया कि रविवार दोपहर करीब सवा दो बजे के करीब केदारनाथ में यात्रा व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए यूकाडा की टीम केदारनाथ हेलीपैड गई हुई थी। यूकाडा के महाप्रबंधक वित्त अमित सैनी केदारनाथ हेलीपैड निरीक्षण के लिए क्रिस्टल एविएशन के हेलीकॉप्टर से वहां गए थे। केदारनाथ में लैंडिंग के बाद जब महाप्रबंधक वित्त अमित हेलीकॉप्टर से उतर रहे थे तो इसी दौरान हेलीकॉप्टर के पीछे लगे रोटर की चपेट में आने से उनका सिर कट गया, जिसकी वजह से उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

क्रिस्टल एविएशन के हेलीकॉप्टर से हुए इस हादसे की जांच की जा रही है। इसके बाद ही कोई तथ्य सामने आ पाएगा। सूत्रों का कहना है कि यह हादसा लैंडिंग के बाद पीछे का रोटर बंद नहीं किए जाने की वजह से हुआ है, जो एक बड़ी लापरवाही है।

मुख्यमंत्री धामी ने इस घटना को दुःखद बताते हुए दुर्घटना के कारणों की जांच के निर्देश दिये हैं। साथ ही इस प्रकार की घटनाओं की भविष्य में पुनरावृत्ति न हो, इसकी प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित करने के सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये हैं।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये हैं कि यात्रा काल के दौरान हेलीकॉप्टर से यात्रा करने वाले यात्रियों की हेलीपैड पर चढ़ते और उतरते समय सुरक्षा मानकों का पालन सुनिश्चित किया जाए।

पुलिस अधीक्षक विशाखा अशोक भदाणे ने बताया कि घटना के कारणों की जानकारी जुटाई जा रही है, जबकि शव का पंचमाना भरते हुए पोस्टमार्टम की कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब कि पिछले वर्ष भी केदारनाथ में हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया था। इस घटना में सात लोगों की मौत हुई थी। कुछ वर्ष पहले भी एक हेली सर्विस कर्मचारी की रोटर की चपेट में आने से हो गई थी।