नई टिहरी के घनसाली व जाखणीधार छह कोरोना पाॅजिटिव मिलने से हड़कंप

0
156
कोरोना
(नई टिहरी) भिलंगना व जाखणीधार ब्लाक में छह लोगों के कोरोना पाजिटिव पाये जाने से प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग में हडकंप मचा है। रेंडमली सैंपलिंग के चलते यह केस सामने आये हैं। सैंपलिंग की गति बढ़ने से और अधिक केस सामने आने की संभावना है। कोरोना के केस सामने आने से घनसाली व जाखणीधार क्षेत्र के लोगों में भय का माहौल बन गया है। जिसे देखते हुये व्यापार मंडल ने घनसाली व चमियाला बाजार को 31 मई तक पूरी तरह से बंद करने का निर्णय लिया है।
चमियाला और घनसाली के बाजारों को व्यापार मंडलों ने बंद करने का निर्णय लिया
बीते दो दिन में यकायक जिले में कोरोना संक्रमितों के सामने आने से प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग इन लोगों के कांटेक्ट ट्रेसिंग में जुट गया है। रेंडमली लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने से प्रशासन की चिंता बढ़ गई है। कोरोना संक्रमण फैलने के भय को लेकर भयभीत हुये घनसाली व चमियाला बाजार को 31 मई तक व्यापारियों ने बंद कर दिया है। संक्रमित लोगों की यातायात हिस्ट्री खंगाली जा रही है। विगत 16 मई  भिलंगना व जाखणीधार के 25 प्रवासी मुम्बई के कांदिवली से उत्तराखंड के लिए चले थे, जो कि 18 मई को ऋषिकेश मुनिकीरेती में रात को रहे। 19  को शाम 22 लोग घनसाली पहुंचे। जिनमे 12 लोग
जाखणीधार व भिलंगना के अपने-अपने गांवों को गए है। जबकि 13 लोग घनसाली में सैनिक विश्राम गृह में रुके।
20 सुबह को वे चमियाला व ढुङ्गमंदार से अपने घरों को गए। जहां पर उन्हें गांव के एकांतवास केन्द्रों पर रखा गया है। इन सभी का ऋषिकेश में सैम्पल लिया गया था, बाद में छह की रिपोर्ट पाजिटिव आयी है। सौंप गांव से कल ही 25 वर्षीय युवक को प्रशासन ने एम्स पहुंचाया है। जबकि ढुङ्गमंदार से एक,  भिलंगना के चंगोरा, गोना व बनोली से एक-एक संक्रमितों को पुलिस व स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उठाकर नई टिहरी के बौराड़ी के होटल भरत मंगलम में रखकर इलाज शुरू किया। घनसालाी के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. श्याम विजय ने बताया कई लोगों को नई टिहरी भेज दिया गया है। जबकि अन्य लोगों को  एकांतवास में रख कर निगरानी की जा रही है। उनके संपर्क में आये लोगों की भी जांच की जा रही है। एसओ घनसाली प्रदीप रावत ने बताया कि संक्रमित लोगों की ट्रेवल हिस्टी खंगाली जा रही है। उन्होंने बताया कि करीब 22 से 23 लोग संक्रमित लोगों के संपर्क में आये थे, इन सभी का एकांतवास में रखा जा रहा है।
क्या कहते हैं स्वास्थ्य अधिकारी व प्रशासन
डीएम डाॅ वी षणमुगम ने बताया कि कोरोना मरीज समाने आने पर सभी को अलर्ट कर दिया गया है। कोविड-19 टास्क फोर्स समिति का गठन कर दिया गया है। एकांतवास में रहने वालों की कड़ी निगरानी रखी जा रही है। सीएमओ डाॅ. मीनू रावत ने बताया कि अब तक जनपद में 121 की सैंपलिंग की गई है, जिनमें से 54 की रिपोर्ट निगेटिव, छह की पाॅजिटिव आयी है। अभी 61 की रिपोर्ट आनी बाकी है। डाॅ. रावत ने कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है। सभी का ट्रीटमेंट शुरू किया जा रहा है और फिलहास सभी स्वस्थ हैं।