डीएम ने ऋषिगंगा कंपनी के दावों पर रोक लगाई

0
111
ऋषिगंगा
तपोवन-रैणी आपदा में प्रभावित, मृत एवं लापता लोगों को सहायता धनराशि देने के लिए ऋषि गंगा पावर प्रोजेक्ट कंपनी की ओर से अभी तक कोई कार्रवाई न करने तथा राहत, बचाव एवं खोज कार्यों मे जिला प्रशासन का सहयोग न करने पर जिलाधिकारी चमोली स्वाति एस भदौरिया ने न्यू इण्डिया इंश्योरेंस कंपनी से रैणी में ऋषि गंगा कंपनी के सभी दावों पर तत्काल रोक लगाने के आदेश दिए हैं। आदेश में कहा गया है कि इसका मकसद ऋषि गंगा कंपनी के माध्यम से प्रभावित लोगों को प्राथमिकता पर शीघ्र सहायता धनराशि दिलवाना है।
जिलाधिकारी ने न्यू इण्डिया इंश्योरेंस कंपनी के उप महा प्रबंधक को इस बारे में पत्र लिखा है। जिलाधिकारी ने कहा है कि प्रभावित लोगों के दावों का निस्तारण न होने के कारण इस पावर प्रोजेक्ट के प्रति लोगों मे असंतोष व्याप्त है।
गौरतलब है कि चमोली के रैणी गांव के पास ग्लेशियर टूटने से आई आपदा में अभी भी रेस्क्यू आपरेशन जारी है। अबतक इस आपदा में मरने वालों की संख्या 72 पहुंच गई है। वहीं कुल लापता 204 लोगों में से 132 अभी भी लापता हैं।