अलकनंदा में डाला जा रहा है बदरीनाथ हाईवे चौड़ीकरण कार्य मलबा

0
91
मलबा
(गोपेश्वर) बदरीनाथ हाईवे पर स्थित चमोली में एनएचआईडीसीएल की लापरवाही ने स्थानीय लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। कंपनी की ओर से हिल कटिंग के दौरान निकले मलबे से धूल के गुबार उड़ रहे हैं। जिससे यहां कस्बे के घरों धूल से पट गये हैं। निर्माणदायी संस्था भी इस मलबे को अलकनंदा नदी डाल रही है। स्थानीय लोगों ने मामले में तहसील प्रशासन से मलवा हटवाने की मांग की है।
मलवे से उड़ रही धूल, स्थानीय लोग परेशान
इन दिनों जिला प्रशासन की अनुमति के बाद एनएचआईडीसीएल की ओर से बदरीनाथ हाईवे पर चमोली के चाडा तोक में हिल कटिंग का कार्य चल रहा है। यहां खड़ी चट्टान होने के चलते कार्य करने वाली कंपनी के प्रबंधन मलबे को दो मीटर से अधिक उंचाई से नीचे खाई में डाल रहे हैं, जिससे मलबे से धूल के उठते गुबार लोगों के घरों में भर रहे हैं। ऐसे में जहां लोगों को सांस लेने में दिक्कतें झेलनी पड़ रही हैं। वहीं लोगों के घरों में रखा सामान भी खराब होने लगा है। स्थानीय निवासी विक्रम सिंह नेगी का कहना है कि मामले में तहसील प्रशासन से मुलाकता कर कंपनी प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई करने और समस्या का स्थाई निराकरण करने की मांग की गई है।
इस संबंध में चमोली के उपजिलाधिकारी बुशरा अंसारी ने बताया कि स्थानीय लोगों ने बदरीनाथ हाईवे पर चमोली में सड़क चौड़ीकरण कार्य से दिक्कतों की शिकायत की है। जिस पर तत्काल कंपनी प्रबंधन को हिल कटिंग क्षेत्र में पानी का छिड़काव करने के साथ ही अन्य उपाय करने के निर्देश दिये गये हैं। साथ ही कर्मचारियों को निर्माण कार्य से स्थानीय लोगों को हो रही दिक्कतों पर निगरानी के आदेश दिये गये हैं। निर्माण कार्य से स्थानीय लोगों को परेशानी का सामना न करना पड़े इसका पूरा ध्यान रखा जा रहा है।