उत्तराखंडी परिधानों को बढ़ावा देगा “उत्तराखंडी परिधान म्यर पहचाण “

0
558
परिधान
उत्तराखंडी पारंपरिक परिधानों और राज्य की संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए महिला बाल विकास मंत्रालय की ओर से अंतराष्ट्रीय महिला दिवस पर उत्तराखंडी परिधान म्यर पहचाण विषय पर 08 मार्च को प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। राज्य में पहली बार इस तरह की प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है।
महिला व बाल विकास मंत्री रेखा आर्या ने पत्रकारों से बातचीत में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर केंद्र सरकार के निर्धारित थीम के साथ-साथ राज्य के गढ़वाल और कुमाऊं दोंनों मंडलों के प्रचलित परम्परागत परिधानों को बढ़ावा देने के लिए राज्य में पहली बार इस प्रकार का प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। मंत्री रेखा आर्या प्रतियोगिता में खुद परिधान के साथ शामिल होगी।
उन्होंने बताया कि प्रथम श्रेणी में चेली नौनी उत्तराखंड के अंतर्गत 18 से 30 वर्ष की अविवाहित युवतियां प्रतिभाग करेगी,जबकि द्वितीय में ब्यारी उत्तराखंडी में 50 वर्ष तक की विवाहित और तृतीय में आमा उत्तराखंडी में 50 वर्ष से अधिक आयु की महिलाएं शामिल हो सकती हैं। मंत्री ने बताया कि कुल 80 आवेदकों में से 18 प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया जाएगा। प्रथम के लिए 31 हजार और द्वितीय के लिए 21 और तृतीय को 11 हजार रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा।
प्रतियोगिता में शामिल होने के इक्छुक प्रतिभागी जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला सशक्तिकरण व बाल विकास के कार्यालय में 24 फरवरी को सायं चार बजे तक आवेदन जाम करना होंगा। प्रतियोगिता के लिए प्रतिभागियों का चयन 26 फरवरी को लाटरी के माध्यम से मीडिया की मौजूदगी में किया जाएगा।
परिधान प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए चयन प्रतिभागियों को 7 मार्च को ही बुला लिया जाएगा। रैंप वॉक से एक दिन पहले फुल ड्रेस रिहर्सल किया जाएगा। प्रतियोगिता 8 मार्च को तीन बजे आयोजित होगा। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत शामिल होंगे।