बाल विकास विभाग को मिले 14 अधिकारी

0
998

देहरादून। राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) महिला सशक्तिकरण बाल विकास एवं पशुपालन मंत्री रेखा आर्या ने बताया कि बाल विकास विभाग के अन्तर्गत लोक सेवा आयोग से चयनित नवनियुक्त बाल विकास परियोजना अधिकारियों में से 14 अधिकारियों की तैनाती की गई है। उन्होंने बताया कि अधिकांश अधिकारियों को पर्वतीय जनपदों में तैनात किया गया है।

शुक्रवार को मंत्री आर्या ने आशा व्यक्त की कि विभाग को नये अधिकारी मिलने से विभागीय योजनाओं को त्वरित गति से संचालित कराया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि प्रत्येक आंगनबाड़ी केन्द्रों के माध्यम से जन्म से 06 वर्ष तक की आयु के बच्चे एवं गर्भवती/धात्री महिलाएं राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं से लाभान्वित हो सकेंगी। उन्होंने यह भी बताया कि पशुपालन विभाग में 15 पशुचिकित्सा फार्मेसिस्टों की मुख्य पशुचिकित्सा फार्मेसिस्ट के पद पर पदोन्नति कर दी गई है।
आर्या ने बताया कि जनपदों में पशुपालकों की समस्याओं का त्वरित गति से निस्तारण करने हेतु एवं राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ प्रत्येक पशुपालक को मिल सकें। इसलिए पदोन्नत अधिकांश मुख्य पशुचिकित्सा फार्मेसिस्टों को भी पर्वतीय जनपदों में तैनात किया गया है। उन्होंने कहा कि इससे पर्वतीय जनपदों के पशुपालकों को अत्याधिक लाभ मिल सकेगा।