राजकीय सम्मान के साथ हुआ शहीद हमीर पोखरियाल का अंतिम संस्कार

0
596

‘हमीर तेरा यह बलिदान याद रखेगा हिंदुस्तान,’देश की रक्षा के लिए सीमा पर प्राण निछावर करने वाले ऋषिकेश  के जांबाज हमीर पोखरियाल ने अपने प्राणों की आहुति दी है। उनके शहर ऋषिकेश में शहीद की अंतिम यात्रा को लेकर पूरा बाजार बंद रखा गया ,बूढ़े ,महिलाएं और युवा बड़ी संख्या में शहीद को अंतिम विदाई देने के लिए पूर्णानंद घाट पहुंचे  जहां सेना ने सैनिक सम्मान के साथअंतिम विदाई दी।

सैन्य सम्मान एवं गार्ड ऑफ़ आँनर के साथ शहीद हमीर पोखरियाल को आज अंतिम विदाई दी गई। ऋषिकेश के पूर्णानंद घाट पर शहीद का अंतिम संस्कार किया गया।

इस दौरान अंतिम यात्रा में शामिल हजारों लोगों ने शहीद जवान हमीर अमर रहे के नारे लगाये।अंतिम यात्रा में कई हजार लोग शामिल हुए। उस क्षण का बयां करें तो लोगों के हाथों में तिरंगा लहरा रहा था। गम और गुस्सा यहां की फिजाओं में तैर रहे थे। नम आंखों से लोग शहीद जवान की एक झलक पाने को व्याकुल थे।

उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा कि “दुख की इस घड़ी में वह शहीद हमीर पोखरियाल के परिवार के साथ हैं। पाकिस्तान को समय पर मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा, उसे लगातार हर मोर्चे पर सबक सिखाया जा रहा है। शहीद हमीर hकी शहादत खाली नहीं जाएगी” शहीद हमीर पोखरियाल की स्मृति में शहीद स्मारक बनाने की घोषणा की।