बैंक किसी भी लाभार्थी को परेशान न करें : धन सिंह रावत

0
46
रुद्रपुर, प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डाॅ. धन सिंह रावत ने कहा कि, “प्रदेश सरकार ने किसानों को शून्य प्रतिशत पर ऋण की व्यवस्था की है, किसानों को सरलीकरण से इस योजना का लाभ दिया जाए। साथ ही बैंक किसी भी लाभार्थी को परेशान न करें।” वे डिस्ट्रिक्ट को-ऑपरेटिव बैंक, रुद्रपुर के 10वीं वार्षिक निकाय (एजीएम) की बैठक में बतौर मुख्य अतिथि हिस्सा ले रहे थे। मंत्री रावत ने कहा कि लघु उद्योग समूह के अब तक पांच लाख ग्यारह सौ महिला समूहों को ऋण दिया गया है। सरकार का लक्ष्य इस वर्ष 20 हजार समूहाेें को इस योजना के अंंतर्गत ऋण देने का है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की मंशा महिलाओं को सशक्त एवं स्वावलम्बी बनाना है। उन्होंने सम्बन्धित बैंकों को सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार करने के भी निर्देश दिए। मंत्री ने कहा कि अब तक डिस्ट्रिक्ट को-ऑपरेटिव बैंक में 442 पद भरे गए हैं। आगे भी अन्य स्टाफों की नियुक्ति की जाएगी। रिक्त पदों पर उत्तराखण्ड के लाभार्थियों को ही लिया जाएगा।
उन्होंने सभी डिस्ट्रिक्ट को-ऑपरेटिव बैंक में रिक्त पदों की सूची शीघ्र शासन में भेजने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार ने एकमुश्त समाधान योजना लागू की है। जो लाभार्थी किसी परिस्थितिवश ऋण चुकाने में असमर्थ रहे हैं वे सात अक्टूबर तक बकाया ऋण दे सकते हैं।
मंत्री ने कहा कि सभी समितियों को जल्द ही ऑन-लाइन जोड़ा जाएगा। प्रत्येेक समितियों को एटीएम कार्ड भी जारी किए जाएंगे। उन्होंने उपस्थित सभी समितियों के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सदस्य और किसानों से बैकों के सम्बन्ध में सुझाव भी मांगे।