उत्तराखंड : विस अध्यक्ष खंडूडी ने राजस्व पुलिस व्यवस्था को समाप्त करने को लिखा मुख्यमंत्री को पत्र

0
58
विधानसभा

प्रदेश की विधानसभा अध्यक्ष भी अंकिता भंडारी की निर्मम हत्या काे लेकर न केवल बहुत ही चिंतित हैं अपितु इसकी जांच और राजस्व पुलिस की व्यवस्था से भी संतुष्ट नहीं हैं। विस अध्यक्ष ने प्रदेश में राजस्व पुलिस की व्यवस्था को समाप्त करने के लिए मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है।

विस अध्यक्ष ऋतु खंडूडी ने अपने पत्र में कहा है कि जहां कहीं भी राजस्व पुलिस की व्यवस्था चली आ रही है, उसे तत्काल समाप्त कर सामान्य पुलिस बल के थाने/ चौकी स्थापित करने की बात कही है। उन्होंने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से शीघ्र ही इस विषय पर आदेश जारी करने का आग्रह किया है।

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश में आज भी कई क्षेत्रों में राजस्व पुलिस व्यवस्था जारी है। आज के आधुनिक युग में जहां सामान्य पुलिस विभाग में पूरे देश में एक राज्य से दूसरे राज्य में पीड़ित जीरो एफआईआर दर्ज कराकर अपनी शिकायत पंजीकृत करा सकता है। वहीं ऋषिकेश शहर से मात्र 15 किमी की दूरी पर राजस्व पुलिस है, जिसके पास पुलिस के आधुनिक हथियार और जांच के लिए किसी भी प्रकार का प्रशिक्षण नहीं है, वे जांच कर रहे है। यह जानकर अत्यन्त ही पीड़ा होती है।

विधानसभा अध्यक्ष ने अपने पत्र में लिखा कि गंगा भोगपुर में यदि सामान्य पुलिस बल कार्य कर रहा होता तो निश्चित रूप से प्रदेश की बेटी अंकिता आज हमारे मध्य होती और आम जनता में सरकारी कार्यप्रणाली के प्रति इतना रोष व्याप्त नहीं होता। विधानसभा अध्यक्ष ने तत्काल प्रभाव में राजस्व पुलिस की व्यवस्था को समाप्त कर पुलिस चौकी एवं थाना स्थापित करने का मुख्यमंत्री से आग्रह किया, जिससे भविष्य में इस प्रकार की अप्रिय घटना दुबारा घटित न हो।