कर्फ्यू उल्लंघन पर पुलिस ने सेना के जवान और पिता को पीटा

0
185
लॉकडाउन
FILE

एक माह की छुट्टी काटकर ड्यूटी पर लौट रहे आर्मी मेडिकल कोर के जवान की टनकपुर पुलिस ने कर्फ्यू के उल्लंघन के आरोप में कथित रूप से पिटाई लगा दी। पुलिस कर्मियों की दादागिरी यहीं नहीं रुकी। उन्होंने फौजी के सामने ही उसके पिता को भी डंडे मार दिए। बाद में पुलिस पिता-पुत्र को थाने ले गई। आरोप है कि थाने में भी दोनों के साथ अभद्रता की गई। फौजी के पिता ने मामले की शिकायत मुख्यमंत्री पोर्टल में दर्ज करा दी है।

चम्पावत विकास खंड के सिप्टी क्षेत्र के बड़पास गांव निवासी अरुणाचल प्रदेश में तैनात आर्मी मेडिकल कोर का जवान भुवन चंद्र जोशी पुत्र कृष्णानंद जोशी रविवार को छुट्टी काटकर ड्यूटी के लिए जा रहे थे। सुबह करीब साढ़े दस बजे जवान के पिता उसे टनकपुर बस अड्डे तक छोडने के लिए जा रहे थे। बताया जा रहा है कि राजाराम चौराहे के पास पुलिस कर्मियों ने दोनों को रोक लिया और साप्ताहिक कर्फ्यू के उल्लंघन के आरोप लगाने लगे। जब फौजी ने अपना परिचय दिया तो पुलिसकर्मी दबंगई दिखाने लगी। इस पर पुलिस ने दोनों की पिटाई लगा दी। जवान ने अपना परिचय पत्र भी दिखाया और ड्यूटी में जाने की बात कही, लेकिन पुलिसकर्मियों ने उसकी एक भी नहीं सुनी।
आरोप है कि पुलिस दोनों को थाने ले गई और वहां भी पिता पुत्र के साथ अभद्र व्यवहार किया गया। हालांकि बाद में पुलिस ने दोनों को छोड़ दिया, जिसके बाद फौजी भुवन चंद्र जोशी बरेली तक रोडवेज की बस से रवाना हुए। इस घटना से आहत फौजी के पिता ने मुख्यमंत्री पोर्टल में शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने बताया कि है पुलिस द्वारा की गई मारपीट में उनके पैरों में चोट आई है।
इस मामले में टनकपुर के सीओ अविनाश वर्मा का कहना है कि फौजी और पुलिसकर्मियों में कहासुनी का मामला सामने आया था। पुलिस द्वारा थाने लाने के बाद फौजी द्वारा परिवार सहित ड्यूटी जाने की बात कहने पर पुलिस द्वारा उसे छोड दिया गया। मारपीट की बात सामने नहीं आई है।