उत्तराखंड : मौसम की मार से चार धाम यात्रा पर लगा ब्रेक

0
119
मानसून

एक बार फिर मौसम ने करवट ली है। लगातार दो दिनों से जारी बरसात का क्रम अभी चलता दिख रहा है। मौसम विभाग का अनुमान है कि उत्तराखंड राज्य के सभी जनपदों में कहीं-कहीं तीव्र बौछार होने के साथ-साथ अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

मौसम विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह ने मंगलवार को बताया कि उत्तराखंड के लोगों को चेतावनी दी गई है कि कहीं-कहीं गर्जना के साथ ओलावृष्टि, आकाशीय बिजली चमकने, 50-70 किलोमीटर की रफ्तार से तेज हवाई (झकड़) चलने की संभावना है। उन्होंने बताया कि अधिकतम तापमान 32 डिग्री रहेगा जबकि आंशिक रूप से आमतौर पर बदल छाए रहेंगे।

उन्होंने बताया कि देहरादून का न्यूनतम तापमान 19.9 डिग्री रहेगा। बीते 24 घंटों में 4.7 एमएम बारिश हुई है। इसी प्रकार पंतनगर का मौसम 20.5 डिग्री सेल्सियस रहेगा और वहां 11.2 एमएम बारिश हुई है। मुक्तेश्वर का तापमान 9.1 डिग्री रहेगा, वहां 18.6 एमएम बरसात हुई है। नई टिहरी में न्यूनतम तापमान 12 डिग्री रहेगा, वहां 7.4 एमएम वर्षा आंकी गई है। सामान्य बारिश के बारे में उन्होंने अपील की कि तीर्थ यात्री मौसम के संभावनाओं को देखते हुए सतर्क रहें और सुरक्षित स्थानों पर रहें ताकि किसी प्रकार की अनहोनी न हो।

उत्तराखंड में चल रही केदारनाथ यात्रा पर खराब मौसम का असर देखने को मिल रहा है। केदारनाथ में भारी बारिश और बर्फबारी के बीच सोनप्रयाग में ही यात्रा को रोक दिया गया है। इसके साथ ही फाटा से गौरीकुंड तक चलने वाली हेलीकॉप्टर सेवा को भी अस्थायी रूप से रोक दिया गया है। रुद्रप्रयाग में सर्किल ऑफिसर प्रमोद कुमार घिल्डियाल के मुताबिक खराब मौसम को देखते हुए श्रद्धालुओं को सुरक्षित स्थानों पर ही रुकने की अपील की गई है।