पहाड़ के स्वाद को ताज़ा करता है रेखा कोठारी का “पिस्यू लूण”

0
1246

जब मैं पहली बार रेखा कोठारी से मिली तो वो उसी समय अपने बच्चों को स्कूल भेजकर अपने खास उत्पाद को बनाने के लिये बैठी थी। अपने ही अंदाज की उद्यमी रेखा कोठारी अपने खास “पिस्यू लूण” या मसालेदार नमक को लोगों तक पहुंचा रही हैं।

रेखा उत्तराखंड के चंबा में पली बड़ी हैं। शादी के बाद वो देहरादून आकर रहने लगी और इसी के चलते जल्द ही उन्हे खाने में घर के स्वाद की याद सताने लगी। “पिस्यू लूण” का हुनर रेखा को उनकी मां से मिला है। रेखा के इस खास नमक के स्वाद को उनके परिवार और दोस्तों के बीच खासी वाहवाही मिली। इसी से प्रेरित होकर रेखा ने इसे बाज़ार में एक विकल्प के तौर पर उतारने का मन बनाया और उनके इस फैसले को परिवार और दोस्तों से पूरा साथ मिला।

जब मैं रेखा से मिली तब तक वो कई किलो नमक ऑनलाइन बेच चुकी थी। इस खास नमक को बनाने में रेखा आठ से दस खास चीज़ों का इस्तेमाल करती हैं। हर रोज़ करीब एक घंटा लगाकर रेखा ये नमक तैयार करती हैं। इस नमक की खास बात ये हैं कि प्याज़ लहसुन न खाने वालों के लिये इसे कस्टम-मेड भी किया जा सकता है। ऑनलाइन मिलने वाले ऑर्डर के मुताबिक ये नमक 50 ग्राम, 100 ग्राम, 250 ग्राम, और 500 ग्राम की पैकिंग में उपलब्द्ध है।

पिस्यू लूण” को बनाने के लिये काला नमक, लौंग, काली मिर्च, नमक, अदरक, प्याज, लहसुन आदि का प्रयोग किया जाता है। अपने इन्ही पदार्थों के कारण ही ये नमक सलाद, रायता, फ्रूट सलाद आदि में स्वाद को अलग अंदाज देता हैं। रेखा के इस खास उत्पाद की मांग उत्तराखंड से लेकर दिल्ली, गुड़गांव,मुंबई तक है। रेखा बताती हैं कि, “जब हम बच्चे थे तो मेरी मां यह नमक बनाया करती थी। उनसे ही मैने ये नमक बनाना सीखा और तब से ये स्वाद मेरे साथ है। अब मैं भी इसे अपनी बेटियों को सिखा रही हूं ताकि पहाड़ की खास रेसेपी खो न जाये।”

रेखा की बड़ी बेटी दीपांजली 12 क्लास में पढ़ती है। वो कहती है कि, “आजकल हम सभी को अपना गांव और उससे जुड़ी बातें कम देखने को मिलती हैं। ऐसे में हमे बहुत अच्छा लगता है कि मेरी मां अपने खास अंदाज में इसे प्रमोट कर रही है।”

हम जैसे रेखा से इजाजत लेने लगे वैसे ही उन्होने हमे एक खीरे पर अपना खास नमक छिड़ककर दिया। अब पहाड़ों के इस खास स्वाद को कौन मना कर सकता है।

इस खास नमक को ऑर्डर करने के लिये इंस्टाग्राम पर मैसेज करें।

Instagram account: @namakwali/@insta_pahadi