कांग्रेस की हार के लिए हरीश रावत जिम्मेदार, 17 सीटें हराने का आरोप

0
67
उत्तराखंड

विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा पर हमलावर कांग्रेसी नेता अब चुनाव में करारी हार के बाद खुद निशाने पर हैं। खासकर पार्टी के हरीश रावत और प्रीतम सिंह गुट एक-दूसरे पर हमला करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे।

इसी कड़ी में नगर के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व कांग्रेस नेता स्वर्गीय डुंगर सिंह बिष्ट के पुत्र पूर्व जिला पंचायत सदस्य गोपाल बिष्ट ने हरीश रावत पर भाजपा का एजेंट होने और उनके द्वारा उठाए गए मुस्लिम यूनिवर्सिटी के मुद्दे से राज्य में 17 सीटों का नुकसान होने का बड़ा आरोप लगाया है।

बिष्ट ने कहा कि प्रीतम सिंह और रणजीत रावत के नेतृत्व में अत्यधिक मेहनत करने और एकजुट होने के बावजूद कांग्रेस की हार के लिए हरीश रावत जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा कि हरीश रावत की वजह से कम से कम 17 सीटों पर पार्टी को हार का मुंह देखना पड़ा। जिस तरह देश में भाजपा ने असदुद्दीन ओवैसी को अपने एजेंट के रूप में छोड़ा है, वैसे ही उत्तराखंड में हरीश रावत को अपने एजेंट के तौर पर छोड़ा था। यदि ऐसा न होता तो वह देवभूमि उत्तराखंड में इस्लामिक युनिवर्सिटी जैसी बात न करते। कई जगह पर उन्होंने पिछले 5-10 वर्षों से मेहनत कर रहे और 2017 में बहुत छोटे अंतर से चुनाव हारे उम्मीदवारों को टिकट नहीं दिए। इसका दोष हरीश रावत पर जाता है।