106 वर्षीय नैन सिंह सड़क आंदोलन में कूदे

0
70
सड़क
चमोली जिले के गैरसैंण ब्लॉक के सेरा-तेवाखर्क में सड़क निर्माण की मांग को लेकर चल रहे आंदोलन में हिस्सा लेने मंगलवार को गांव के 106 वर्षीय नैन सिंह पहुंचे। उन्होंने क्रमिक अनशन कर समर्थनकर लोगों का हौसला बढ़ाया। उन्होंने कहा कि सड़क किसी भी क्षेत्र के विकास की आधारशिला है। गांव को विकास की मुख्यधारा से जोड़ने में शासन और प्रशासन की भूमिका ठीक नहीं है। गांव की अनदेखी की जा रही है। बुजुर्ग नैन सिंह को ग्रामीणों ने डंडी पर उठाकर अनशन स्थल तक पहुंचाया।
वर्ष 2012 में शासन ने मालकोट-कालीमाटी-सेरा-तेवाखर्क सड़क को स्वीकृति प्रदान की थी। लोनिवि ने पेडों का कटान करने बाद सड़क निर्माण कार्य अधर में छोड़ दिया था।  26 जनवरी से यहां युवाओं, महिलाओं और बजुर्गों ने स्वयं सड़क निर्माण कार्य शुरू किया। इस पर भी शासन और प्रशासन से कोई मदद नहीं मिली तो 19 फरवरी से ग्रामीणों ने गांव में धरना प्रदर्शन शुरू किया। अब लोग क्रमिक अनशन कर रहे हैं।