उत्तराखंड: नैनीताल जिले में भारी बारिश ने ली दस लोगों की जान

0
69
पीपलकोटी
FILE

नैनीताल के रामगढ़ क्षेत्र में भारी बारिश ने 10 लोगों की जान ले ली है जबकि कई लोग घायल हैं। इन मृतकों में दो बिहार और तीन उत्तर प्रदेश के निवासी थे। इन हादसों में हुई मौतों से इलाके में शोक की लहर है। आपदा प्रबंधन एवं बचाव कार्य में लगी टीमें स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर पीड़ितों को राहत पहुंचाने में युद्धस्तर जुटी हुई हैं।

आपदा नियंत्रण कक्ष की आज की जानकारी के अनुसार प्रदेशभर में हो रही लगातार बारिश और भूस्खलन से विभिन्न इलाकों में कई मकान ध्वस्त हो गए और कई लोग मलबे में दब गए हैं। यहां के रामगढ़ के झुतिया गांव में भी कई घरों पर मलबा गिरा। इसमें छह लोग दब गए। इनमें से पांच लोगों की मलबे में दबने से मौत हो गई जबकि एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया। इस घटना से गांव में शोक की लहर है।

इन मृतकों में धीरज कुमार और जुमराती, बिहार-पश्चिमी चंपारण, हरेंद्र, विनोद कुमार, इम्तियाज- उत्तर प्रदेश के अम्बेडकर नगर के नाम शामिल हैं जबकि काशीराम, बिहार-पश्चिमी चंपारण के हैं, वह घायल हैं। इन मृतकों में से 02 बिहार के पश्चिमी चंपारण और 03 लोग उत्तर प्रदेश के अम्बेडकर नगर जिले के रहने वाले थे। ये रामगढ़ क्षेत्र में सड़क निर्माण का कार्य कर रहे थे। सभी मजदूर रामगढ़ क्षेत्र के एक घर में रह रहे थे।

नैनीताल के दूरस्थ क्षेत्र दोसापानी मुक्तेश्वर में भी तीन ग्रामीणों की मलबे की चपेट में आने से ही मौत हो गई है जबकि नैनीताल, अल्मोड़ा जनपद की सीमा पर दो मजदूरों की चट्टान के बीच दबने से मौत हो गई।