पांच साल के मासूम को उठा ले गया गुलदार

0
257

(गंगोलीहाट) पिथौरागढ़ तहसील के पोखरी गांव से पांच साल के बच्चे को गुलदार उठाकर ले गया। बच्चे का शव घर से दो किमी दूर मिला। इस घटना से गांव के लोगों में दहशत है।

घटना शनिवार की देर सायं की है। पोखरी गांव निवासी राकेश रिंकू की बीते दिनों दिल्ली में शादी हुई थी। शादी के बाद दूल्हा, दुल्हन सहित परिवार के सभी लोग शनिवार सायं अपने गांव पोखरी लौटे। गांव से मात्र पचास मीटर ऊपर सड़क से जब सामान लेकर घर की तरफ आने लगे तो जिसमें कार्तिक पांच वर्ष पुत्र भूपेश जोशी भी था।

घर पर दुल्हन के गृह प्रवेश का कार्यक्रम में लोग व्यस्त थे। शंख की आवाज सुनकर बच्चा तेजी से घर की ओर भागा। इसी दौरान झाड़ियों में घात लगाकर बैठा गुलदार बच्चे को उठा ले गया। लोगों को इसकी भनक तक नहीं लगी। अन्य लोग जब घर पहुंचे तो कार्तिक नजर नहीं आया।

दिल्ली से लौटे परिजन उसकी ढूंढने लगे। घर से आधा किमी दूर पीपल के पेड़ के पास कार्तिक का अंडर वियर मिला। उसे गुलदार द्वारा उठाए जाने की पुष्टि हुई । सूचना वन विभाग और राजस्व विभाग को दी गई। रात को ही वन विभाग और राजस्व टीम पहुंच गई थी। ग्रामीणों के साथ खोजबीन जारी रही। पूरी रात ढूंढ खोज के बाद भी कुछ पता नहीं चला।

अगले दिन सुबह घर से लगभग दो किमी दूर कार्तिक का क्षत विक्षत शव मिला। उसके शरीर के नीचे का हिस्सा गुलदार चट कर गया था। शव से कुछ मीटर नीचे गुलदार भी नजर आया। लोगों को देखते हुए वह भाग गया।

बालक का शव मिलते ही घर पर कोहराम मच गया। शादी वाले घर में इस हादसे को लेकर रंग में भंग पड़ गया। मृतक बालक की मां बेहोश हो गई। पुलिस ने शव कब्जे में ले लिया। जिला मुख्यालय से पहुंचे चिकित्सकों द्वारा शव का पोस्टमार्टम किया गया।

इस घटना को लेकर गांव सहित क्षेत्र में आक्रोश है। बीते डेढ़ साल में सात लोगों को मार चुके गुलदार को आदमखोर घोषित कर उसे मारने की मांग होने लगी। कार्तिक की एक बहन है।