महीने में तीन दिन पौड़ी में बैठेंगे डीआईजी गढ़वाल

0
225
डीजीपी

प्रदेश के डीजी (लॉ एंड ऑर्डर) अशोक कुमार ने कहा कि उनका उद्देश्य है कि पुलिस स्मार्ट, अनुशासित, पारदर्शी व जनता से मित्रवत हो लेकिन अपराधियों में पुलिस का खौफ हो। आम आदमी पुलिस को देखकर अपने आप को खुश को सुरक्षित महसूस करे। डीजी ने बताया कि आईजी गढ़वाल माह में तीन दिन पौड़ी में कैंप करेंगे। पुलिस में अनुशानहीनता व जनता से दुर्व्यहार को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पुलिस कर्मियों के प्रशिक्षण में संवेदनशीलता अहम हिस्सा होगी। साइबर क्राइम व नशे पर नियंत्रण के लिए पुलिस अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की जाएगी।

गुरुवार को पुलिस लाइन पौड़ी में पत्रकारों से वार्ता के दौरान अशोक कुमार ने कहा कि पुलिस महानिरीक्षक गढ़वाल माह मे तीन दिन पौड़ी में कैंप करेंगे। पहाड़ में साइबर अपराधों में इजाफा को देखते हुए श्रीनगर में साइबर सेल खोली जाएगी। कोटद्वार में यातायात व सीपीयू यूनिट कार्यालय खोले जाएंगे। पुलिसकर्मियों को आम आदमी से मित्रतवत व्यवहार करने की नसीहत दी गई है। अनुशासनहीनता व दुर्व्यहार को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ऐसा किए जाने पर संबंधित के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि पुलिस का व्यवहार जनता के प्रति मित्रवत रहे लेकिन अपराधियों में खौफ आवश्यक है।
उन्होंने कहा कि राज्य में नशे व साइबर क्राइम की घटनाएं बढ़ रही हैं, जिसके नियंत्रण के लिए जिला स्तर पर टास्क फोर्स बनाई गई है। इन अपराधों पर नियंत्रण के भरसक प्रयास किए जा रहे हैं। जनता से भी सहयोग की अपेक्षा हैं। इन अपराधों नियंत्रण न होने पर पुलिस अधिकारियों की जिम्मेदारी तय किए जाने के साथ ही कार्यवाही भी की जाएगी। अक्सर थानों में शिकायतें रिसीव नहीं किए जाने की बात सामने आती हैं, जिस अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि प्रत्येक शिकायत को स्वीकार का कार्यवाही की जाए। पुलिसिंग में पारदर्शिता हो, इसका पूरे प्रयास किए जा रहे हैं। पत्रकार वार्ता में एसएसपी पौड़ी पी रेणुका देवी, एएसपी प्रदीप कुमार राय, एएसपी संचार अनूप काला, सीओ सदर वंदना वर्मा, सीओ श्रीनगर एसडी नौटियाल आदि मौजूद थे।

सप्ताह में एक दिन श्रीनगर में बैंठेगी एसएसपी

श्रीनगर शहर में यातायात व्यवस्था के साथ ही नशे का कारोबार भी पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ है। साथ ही शहर में केंद्रीय विवि, एनआईटी व मेडिकल कालेज से बड़े शैक्षणिक संस्थान हैं। यहां छात्रों के आंदोलन भी अक्सर होते रहते हैं। डीजी अशोक कुमार ने बताया कि श्रीनगर शहर के बढ़ते स्वरूप को देखते हुए एसएसपी सप्ताह में एक दिन यहां कैंप करेंगी।

नई रेंज की स्थापना पर होगा विचार

राज्य में पुलिस विभाग की गढ़वाल व कुमाऊं रेंज हैं। पत्रकारों की ओर से नई रेंज की स्थापना के संबंध में पूछे जाने पर डीजी अशोक कुमार ने कहा कि इस पर विचार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि नई रेंज की स्थापना के संबंध में पूर्व में शासन को प्रस्ताव भेजा गया था।