Pro Fixerz: अब एक फोन से दूर होगी घर की परेशानी

0
127

उत्तराखंड प्रदेश हर क्षेत्र में प्रगति कर रहा है।वह चाहें पहनावे में हो या विकास की बात हो। मेट्रोपॉलिटन शहरों जैसी सभी सुविधाएं अब आपके शहर देहरदून में भी मिल रही है।ऐसी ही एक सुविधा हैं प्रो-फीक्सर्रस की।

जी हां नाम से मतलब साफ है प्रोफेशनल फिक्सर और यह किस बात कि फिक्सिंग है यह आपको अगली लाईन में पता चल जाएगा।आपके शहर देहरादून में अब एक ऐसी संस्था काम कर रही है जो आपके एक फोन कॉल पर आपको हर सुविधा दे रहे हैं चाहें वह प्लंबिंग हो,इलेक्ट्रिशियन,कारपेंटर,अप्लायंस रिपेयरिंग हो या फिर मेंहदी आर्टिस्ट की सर्विस हो। 20-30 साल के अंदर योग्य पुरुषों की यह एक टीम है। पीले रंग की टी-शर्ट पहने ये पंद्रह पुरुष, अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ हैं और कंपनी द्वारा काम पर रखे जाने से पहले इनका कंपनी द्वारा पूरी तरह से बैक-ग्राउंड चेक किया जाता है।

प्रो-फिक्सिंग एक ऐसी कंपनी है जिसे तीन युवाओं ने मिलकर एक साथ शुरु किया था और आज करीब एक साल के बाद प्रो-फिक्सिंग लगभग एक हजार घरों में अपनी सर्विस दे चुका है।इस्तेदाद मुतीब,साहिब-ए-आलम और नीरज कुमार सिंह नाम के यह तीन युवा आज एक ऐसी कंपनी को चला रहे हैं जिसके बारे में आपने मेट्रोपॉलिटन शहरों में ही सुना होगा।इन तीनों युवाओं की सबसे खास बात यह है कि इनमें से कोई भी देहरादून का रहने वाला नहीं है,लेकिन फिर भी आज देहरादून के कोने-कोने में यह अपनी सेवाएं आपको बिल्कुल सही दाम पर दे रहे हैं।

प्रो-फिक्सिंग के बारे में और बात करते हुए इस्तेदाद मुतीब ने हमे बताया कि हम तीनों ने एक ही कॉलेज से बीटेक करने के बाद अलग-अलग शहरों में काम करना शुरु कर दिया था।लेकिन हमें अपना कुछ करना था और इसी सोच के साथ दिल्ली,नोएडा और गुड़गांव से अपनी नौकरी छोड़ कर हम देहरादून आ गए।शुरुआत मुश्किलों से भरी थी लेकिन हमने हिम्मत नहीं हारr और आज हमारे बारे में लोग जानने लगे हैं।इस्तेदाद बताते हैं कि शुरुआत में हमारे पास पैसों की कमी होने की वजह से हमने हर तरह की परेशानी झेली लेकिन अब सबकुछ ठीक है।

प्रो-फीक्सर एक ऐसी कंपनी है जिसकी वजह से दून वासियों को घर बैठे बेहतर सर्विस मिल रही है। अलग और कुछ अच्छा करने की सोच की शुरुआत में प्रो-फीक्सर पहले वेस्ट मैनेजमेंट और डेली सर्विस पर काम करना चाहता था। डेली सर्विस के माध्यम से अब प्रो-फीक्सर ने मार्केट में अच्छा नाम कमा लिया है और अब वह वेस्ट मैनेजमेंट प्रोजेक्ट पर काम शुरु करने वाले हैं।

साहिबे आलम ने हमे बताया कि पिछला एक साल हमारे लिए आसान नहीं था।हमने जी जान लगा कर डोर-टू-डोर,शॉप-टू-शॉप सर्विस भी दी है।प्रो-फिक्सर ने सबसे पहले प्लम्बिंग का काम किया उसके बाद धीरे-धीर हमने हमारी सुविधाएं बढ़ा दी।

जहां एक तरफ प्रो-फिक्सर देहरादून में लोगों के बीच अपने डेली सर्विस को लेकर मशहूर हो रहा है वहीं प्रो-फीक्सर अब एक और नई सेवा के साथ आपके सामने आ रहे हैं। आने वाले 21 अक्टूबर से प्रो-फीक्सर स्क्रेप मैनेजमेंट पर काम करने को तैयार है।यानि की घर बैठे आपके कबाड़ को उठाने और उसके बदले आपको कैश नहीं बल्कि प्रो-कैश दिया जाएगा जिसको आप प्रो-फिक्सर की सेवा लेकर रिडिम करा सकते हैं।

नीरज कुमार सिंह ने हमें बताया कि स्क्रैप मैनेजमेंट में प्रो-फिक्सर घर-घर जाकर आपका कूड़ा,रद्दी,पुराने अखबार,ई-कूड़ा आदि इकट्ठा करेंगे और हाथों-हाथ आपको प्रो-कैश के प्वाइंट देंगे।प्रो-फिक्सर लोगों को वेस्ट मैनेजमेंट के लिए भी जागरुक करेगा और शहर में तेजी से बढ़ रहे कूड़े को कम करने की कोशिश करेगा।इसके अलावा हमारे इस पूरे सफर में हमें कुछ लोगों से शुरु से हमारी बहुत मदद की है।नीरज कहते हैं कि रुची शाह (हमारी पहली सलाहकार), मानस लाल (प्राइड ऑफ दून), दिनेश जुयाल (वरिष्ठ पत्रकार) और विशाल कौशिक (सहायक प्रोफेसर, सीएस विभाग, यूपीईएसवे हमारी यात्रा में शुरु से हमारे साथ रहे हैं।

प्रो-फिक्सर के साथ इस वक्त लगभग 15 लोग काम कर रहे हैं जो आपके एक फोन कॉल पर सीधे आपके घर पहुंचते हैं औऱ बेहतर सर्विस देते हैं। तो अगली बार से जब कभी आपके घर में किसी तरह के टेक्निशियन की जरुरत हो तो तुरंत डायल करेः

प्रो फिक्सर : 09927344344