आठ करोड़ की लागत से बनेगा डबरकोट वैकल्पिक मार्ग: रावत

0
64

उत्तरकाशी । बीते सालों से नासूर बना यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग ओजरी के पास डबरकोट स्लीपजोन पर आठ करोड़ रुपये की लागत से बैकल्पिक मार्ग व पुल निर्माण कार्य किया जाएगा। जल्द ही धनराशि कार्यदायी संस्था को आवंटित कर दी जाएगी।
यमुनोत्री विधायक केदार सिंह रावत ने शनिवार को यहां लोक निर्माण निरीक्षण भवन में पत्रकारों को उक्त जानकारी देते हुऐ कहा कि डबरकोट स्लीपजोन हर वर्ष यमुनोत्री धाम की यात्रा प्रभावित कर रहा है। जिसका स्थाई उपचार जरूरी हो गया है। इसी के तहत सरकार ने इसके स्थाई समाधान के लिए वैकल्पिक मार्ग बनाने का निर्णय लिया है। विधायक ने कहा कि 16-17 जुलाई को हुई अतिवृष्टि से यमुनोत्री धाम में काफी नुकसान हो गया था। जिसे सरकार ने गम्भीरता से लेते हुए पैदल पुलिया निर्माण के लिए 95 लाख, सुरक्षात्मक कार्य के लिए एक करोड़ 52 लाख तथा घोड़ा पड़ाव में दीवाल निर्माण के लिए आठ लाख रुपये स्वीकृति कर दिए हैं। जिसकी धनराशि सभी सम्बन्धित विभागों को आवंटित कर दी गई है। रावत ने कहा कि वर्तमान शीतकालीन सत्र में सरकार ने अनुपूरक बजट पेश कर विकास कार्यो को गति देने का कार्य किया है। जो काम बजट की कमी के कारण रुके हुए थे उनको पूरा किया जाएगा। विधायक ने कहा कि कुछ लोगों द्वारा यमुनोत्री धाम के मुद्दे पर राजनीति की जा रही है। कपाट बंद होने पर मुख्यमंत्री का पुतला फूंका गया जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने मुख्यमंत्री से ब्यक्तिगत रूप से मिलकर धाम की समस्याओं से अवगत करवाया। जिसके फलस्वरूप आज यमुनोत्री धाम में पुनर्निर्माण कार्यों के लिए पर्याप्त बजट मिला हैं। उन्होंने कहा कि डबरकोट व यमुनोत्री धाम में कार्यो के लिए वे पूरी तरह प्रतिवद्ध है। किसी भी प्रकार के पुनर्निर्माण कार्यो में बजट की कमी आड़े नहीं आएगी।