ठगी गिरोह के सात सदस्य गिरफ्तार

0
47

देहरादून। बीमा पॉलिसी के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए दून पुलिस ने सात ​लोगों को नोएडा से गिफ्तार किया है। इस गिरोह के एक सदस्य को पुलिस ने पहले ही अल्मोड़ा से गिरफ्तार किया था।
एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने सोमवार को ​सात लोगों के गिरफ्तार किए जाने का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि कुछ दिन पहले एक व्यक्ति अनिल सिन्घवाल ने इस संबंध में उनसे शिकायत की थी। शिकायत में उसने बताया कि वर्ष 2014 से अलग-अलग नाम व फोन नम्बरों से काल करके उसे बीमा पॉलिसी म्यूचुअल होना बताया गया और पॉलिसी पेमेन्ट के नाम पर अलग-अलग खातों में पैसे जमा कराए जा रहे थे। उसने बताया की उसने अबतक लगभग 10 लाख रुपये जमा कर दिए लेकिन उसे पॉलसी का भुगतान नहीं हुआ। पुलिस ने थाना रानीपोखरी में मामला दर्ज किया और जांच शुरू कर दी।
जांच में पता चला कि बीमा ठगी के नाम पर कई गिरोह गाजियाबाद,नोएडा और दिल्ली में सक्रिय हैं। उन्ही में से एक गिरोह यह भी है। इसमें काफी लोग जुड़े हुए हैं। जिस खाते में पैसा जमा कराया जाता था उसकी जांच की गई तो में सामने आया कि खाता धारक का नाम कविता है जो एक घरेलु महिला है। कविता के पति महेश लाल पुत्र विजय लाल निवासी फटगली पो. बमराडी जिला बागेश्वर का रहने वाला है। वर्तमान में सेक्टर 51 होषियारपुर नोएडा जिला गौतम बुद्व नगर उप्र में पाया गया।
पुलिस ने महेश लाल को बीते एक जनवरी को अल्मोड़ा से गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस अन्य अभियुक्तों की तलाश कर रही थी। रविवार को पुलिस टीम ने संयुक्त रूप से ठगी करने वाले गिरोह के पर्दाफाश करते हुए गिरोह के अन्य सात सदस्यों को सेक्टर 71 नोएडा से गिरफ्तार कर के देहरादून ले आई।
गिरफ्तार अभियुक्तों में दीपक सिंह पुत्र सुभाष सिंह निवासी ग्राम खकुड़ा जिला बुलंदशहर,धर्मेन्द्र कुमार पुत्र मिठन सिंह निवासी ग्राम किनोनी जिला मेरठ ,मोहित पुत्र गुलाब सिंह निवासी ग्राम भाईपुर जिला बुलन्दशहर,आनन्द पाण्डे पुत्र ध्रुव चन्द्र पाण्डे निवासी ग्राम अखबरपुर उ.प्र. ,दीपक कुमार पुत्र विजय सिंह निवासी ग्राम इमलोर थाना जम्मा जिला अलीगढ उ.प्र.,सुधीर गुप्ता पुत्र मुन्ना लाल गुप्ता निवासी ग्राम जलालाबाद जिला शहजहांपुर उप्र और अक्षय कुमार गुप्ता पुत्र सुनील कुमार गुप्ता निवासी कस्बा कांसगंज जिला कन्नोज है।